Share Market: ऑल टाइम हाई पर पहुंचा सेंसेक्स, फिर भी इस साल लाखों इंवेस्टर्स को लगा झटका, ये है कारण
topStories1hindi1458317

Share Market: ऑल टाइम हाई पर पहुंचा सेंसेक्स, फिर भी इस साल लाखों इंवेस्टर्स को लगा झटका, ये है कारण

Investment Tips: विशेषज्ञों के मुताबिक रिटेल निवेशक मुख्य रूप से मिड-कैप और स्मॉल-कैप शेयरों में निवेश करते हैं और बाजार की मौजूदा तेजी मुख्य रूप से लार्ज-कैप शेयरों के जरिए संचालित होती है. यही कारण है कि रूस-यूक्रेन युद्ध से शुरू हुई बिकवाली के बाद खुदरा निवेशकों के स्टॉक पोर्टफोलियो को अभी तक हुए नुकसान की भरपाई नहीं हुई है.

Share Market: ऑल टाइम हाई पर पहुंचा सेंसेक्स, फिर भी इस साल लाखों इंवेस्टर्स को लगा झटका, ये है कारण

Share Market Tips: शेयर बाजार (Share Market) में तेजी के कारण बाजार के इंडेक्स ऑल टाइम हाई पर पहुंच रहे हैं. शेयर बाजार में बने उतार-चढ़ाव के बावजूद सेंसेक्स (Sensex) और निफ्टी (Nifty) ने एक बार फिर से ऑल टाइम हाई बनाया है. सेंसेक्स ने जहां  62,447.73 का ऑल टाइम हाई बनाया है. वहीं निफ्टी ने 18,534.90 का ऑल टाइम हाई बनाया है. हालांकि बाजार के ऑल टाइम हाई होने के बाद भी इस साल लाखों निवेशकों को नुकसान भी उठाना पड़ा है.

नुकसान की भरपाई
शेयर बाजार के विशेषज्ञों के मुताबिक रिटेल निवेशक मुख्य रूप से मिड-कैप और स्मॉल-कैप शेयरों में निवेश करते हैं और बाजार की मौजूदा तेजी मुख्य रूप से लार्ज-कैप शेयरों के जरिए संचालित होती है. यही कारण है कि रूस-यूक्रेन युद्ध से शुरू हुई बिकवाली के बाद खुदरा निवेशकों के स्टॉक पोर्टफोलियो को अभी तक हुए नुकसान की भरपाई नहीं हुई है.

रिटेल निवेशकों ने किया नजरअंदाज
विशेषज्ञों के मुताबिक बाजार में हालिया रैली उन शेयरों से प्रेरित है, जिन्होंने हाल के वर्षों में खराब प्रदर्शन किया है और इन शेयरों को हाल के बिकवाली में रिटेल निवेशकों के जरिए या तो छोड़ दिया गया या नजरअंदाज कर दिया गया था. रिटेल निवेशकों के स्टॉक पोर्टफोलियो को हाल की रैली से लाभ नहीं होने के कारणों पर Bonanza Portfolio के रिसर्च हेड विशाल वाघ ने प्रकाश डाला है.

रिटेल पोर्टफोलियो
विशाल वाघ ने कहा, "यह बाजार की एक सामान्य प्रवृत्ति है. जब भी मिड-कैप और स्मॉल-कैप सेगमेंट अंडरपरफॉर्म करते हैं तब बेहतर प्रदर्शन करने के लिए रिटेल पोर्टफोलियो विफल हो जाते हैं. मुट्ठी भर मिड-कैप और स्मॉल-कैप स्टॉक हैं, जो शानदार प्रदर्शन कर रहे हैं, लेकिन पिछले कुछ वर्षों में उनके खराब प्रदर्शन के कारण ये पोर्टफोलियो में नहीं हैं.

पीएसयू पकड़ रहे गति
उन्होंने कहा कि आईटी स्टॉक ने पिछली रैली में अच्छा प्रदर्शन किया था, हर कोई इस सेक्टर में बॉटम फिशिंग की तलाश कर रहा है, लेकिन पीएसयू गति पकड़ रहा है क्योंकि वे पोर्टफोलियो से बाहर हो रहे हैं, उनका पिछला प्रदर्शन उतना अच्छा नहीं है. इसके अलावा कई पीएसयू शेयरों ने पिछले कुछ महीनों में 50 फीसदी से ज्यादा रिटर्न दिया है.

पाठकों की पहली पसंद Zeenews.com/Hindi, अब किसी और की जरूरत नहीं

Trending news