निवेशकों के हर दिन डूबे 1 लाख करोड़ से ज्‍यादा, जानिए क्‍यों मचा है बाजार में हाहाकार

शेयर बाजारों में इस हफ्ते 3 दिन हुए कारोबार में निवेशकों के हर दिन एक लाख करोड़ रुपए के आसपास की पूंजी घट गई.

निवेशकों के हर दिन डूबे 1 लाख करोड़ से ज्‍यादा, जानिए क्‍यों मचा है बाजार में हाहाकार
दो दिन के कारोबार में सेंसेक्‍स करीब 800 अंक टूटा. (फाइल फोटो)

नई दिल्ली : शेयर बाजारों में इस हफ्ते 3 दिन हुए कारोबार में निवेशकों के हर दिन एक लाख करोड़ रुपए के आसपास की पूंजी घट गई. बुधवार को भी लगातार तीसरे दिन गिरावट जारी रही. इन तीन कारोबारी सत्रों में निवेशकों की 3.62 लाख करोड़ रुपये की पूंजी घटी है. बुधवार को बंबई शेयर बाजार का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स 169.45 अंक और टूटकर दो महीने के निचले स्तर 37,121.22 अंक पर आ गया. 3 दिन में सेंसेक्स 970 अंक या 2.5 प्रतिशत से अधिक टूटा है. इन तीन दिन में बंबई शेयर बाजार की सूचीबद्ध कंपनियों का बाजार पूंजीकरण 3,62,357.15 करोड़ रुपये घटकर 1,52,73,265 करोड़ रुपये पर आ गया है.

जानकारों की मानें तो शेयर बाजार गिरने का खास कारण यह है कि विदेशी निवेशक यहां से पैसा निकाल रहे हैं. डॉलर, पौंड और यूरो मजबूत हो रहे हैं, इसलिए वे भारतीय शेयर बाजार से पैसा निकाल रहे हैं. वहीं रुपए के लगातार कमजोर होने के कारण भारत में राजकोषीय घाटा बढ़ने की आशंका भी है. यह भी बाजार में गिरावट का कारण है. म्‍यूचुअल फंड के प्रदर्शन में भी गिरावट आ रही है. निवेशकों ने एमएफ में धन डालना कम कर दिया है. 

मंगलवार तक 800 अंक टूटा सेंसेक्‍स
मंगलवार तक दो दिन के कारोबार में सेंसेक्‍स करीब 800 अंक टूटा. इससे शेयर बाजार में निवेशकों को कीमतों में गिरावट के हिसाब से दो दिन में 2.72 लाख करोड़ रुपये का नुकसान हुआ था. मंगलवार को सेंसेक्स 295 अंक या 0.78 प्रतिशत और टूटकर 37,290.67 अंक पर आ गया. इससे पहले सोमवार को सेंसेक्स 505 अंक टूटा था.

सोमवार को 505 अंक टूटने से निवेशकों की बाजार हैसियत को एक लाख करोड़ रुपये से अधिक का झटका लगा. शेयर बाजारों में तीव्र गिरावट से बंबई शेयर बाजार में सूचीबद्ध कंपनियों का बाजार पूंजीकरण 1,14,676.15 करोड़ रुपये घटकर 1,55,22,343 करोड़ रुपये रहा. 30 शेयरों पर आधारित सेंसेक्स 505.13 अंक की गिरावट के साथ 37,585.51 अंक पर बंद हुआ.

पिछले हफ्ते भी खराब रहा था प्रदर्शन
वहीं बीते हफ्ते मुंबई शेयर बाजार के सेंसेक्स में शामिल 10 मूल्यवान कंपनियों में से 8 के बाजार पूंजीकरण (एमकैप) में पिछले सप्ताह 41,660 करोड़ रुपये की कमी आई है. अकेले मुकेश अंबानी की अगुवाई वाली रिलायंस इंडस्ट्रीज का एमकैप 15,000 करोड़ रुपये से ज्यादा घट गया. शुक्रवार को समाप्त कारोबारी सप्ताह के दौरान इन दस मूल्यवान कंपनियों में से केवल एचडीएफसी और इन्फोसिस के बाजार पूंजीकरण में वृद्धि देखी गयी.

रिलायंस इंडस्ट्रीज का बाजार पूंजीकरण 15,180.46 करोड़ रुपये घटकर 7,94,074.52 करोड़ रुपये रह गया. वहीं टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज (टीसीएस) का एमकैप 6,278.86 करोड़ रुपये घटकर 7,89,949.92 करोड़ रुपये रहा. एचडीएफसी बैंक का एमकैप 7,778.30 करोड़ रुपये घटकर 5,50,915.33 करोड़ रुपये पर आ गया. वहीं आईटीसी की बाजार हैसियत 4,219.81 करोड़ रुपये घटकर 3,75,441.05 करोड़ रुपये रह गई.

इनपुट एजेंसी से भी