इस दिग्गज कंपनी के शेयर में बड़ी गिरावट, 11 हजार से नीचे आया निफ्टी

आरबीआई की तरफ से मौद्रिक समीक्षा नीति की घोषणा किए जाने के अगले ही दिन अमेरिका-चीन के बीच आयात शुल्क को लेकर फिर से तनातनी की स्थिति से घरेलू शेयर बाजार में गिरावट का माहौल बना हुआ है.

इस दिग्गज कंपनी के शेयर में बड़ी गिरावट, 11 हजार से नीचे आया निफ्टी

नई दिल्ली : आरबीआई की तरफ से मौद्रिक समीक्षा नीति की घोषणा किए जाने के अगले ही दिन अमेरिका-चीन के बीच आयात शुल्क को लेकर फिर से तनातनी की स्थिति से घरेलू शेयर बाजार में गिरावट का माहौल बना हुआ है. सप्ताह के आखिरी कारोबारी दिन शुक्रवार को कमजोर वैश्विक संकेतों और टाटा मोटर्स के शेयर के 14 प्रतिशत तक लुढ़कने से सेंसेक्स शुरुआती कारोबार में 200 अंक तक गिर गया.

सेंसेक्स 240 अंक नीचे आया
कारोबारी सत्र के दौरान सुबह करीब 10.45 बजे 30 शेयर वाला सेंसेक्स 239.1 अंक गिरकर 36732.24 के स्तर पर कारोबार कर रहा है. लगभग इसी समय 50 अंकों वाला निफ्टी 71.2 अंक की गिरावट के साथ 10998.20 के स्तर पर कारोबार करा है. इससे पहले सेंसेक्स गुरुवार को 4.14 अंक यानी 0.01 प्रतिशत की गिरावट के साथ 36,971.09 अंक पर बंद हुआ था. वहीं निफ्टी 6.95 प्रतिशत यानी 0.06 प्रतिशत की गिरावट के साथ 11,069.40 अंक पर बंद हुआ था.

टाटा को अब तक का सबसे ज्यादा घाटा
सप्ताह के अंतिम कारोबारी दिन दोनों शेयर बाजार में टाटा मोटर्स के शेयर में सबसे ज्यादा गिरावट दर्ज की गई. कंपनी के गुरुवार को जारी तिमाही परिणाम में अब तक का सबसे अधिक घाटा दर्ज किए जाने के कारण उसके शेयरों में गिरावट दर्ज की गई. टाटा मोटर्स को अक्टूबर-दिसंबर, 2018 की तिमाही में 26,960.8 करोड़ रुपये का घाटा हुआ.

इसके अलावा सन फार्मा, वेदांता, एलएंडटी, एसबीआई, आईसीआईसीआई बैंक, एमएंडएम, टाटा स्टील, इन्फोसिस, एचडीएफसी और टाटा स्टील के शेयर 1.58 प्रतिशत तक गिर गए. वहीं पावर ग्रिड, एचसीएल टेक, इंडसइंड बैंक, बजाज फाइनेंस, एनटीपीसी, कोल इंडिया और आरआईएल के शेयर 1.38 प्रतिशत तक चढ़ गए.