close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

मामूली बढ़त के साथ Sensex बंद, NIFTY में भी उछाल

निफ्टी भी 6.45 अंकों यानी 0.05 फीसदी बढ़त के साथ 11,916.75 पर बंद हुआ.

मामूली बढ़त के साथ Sensex बंद, NIFTY में भी उछाल
फाइल फोटो.

मुंबई: घरेलू शेयर बाजार में बुधवार को उतार-चढ़ाव का दौर बना रहा और कारोबारी सत्र के आखिर में प्रमुख शेयर संवेदी सूचकांक मामूली बढ़त के साथ बंद हुए. सेंसेक्स पिछले सत्र के मुकाबले 22.77 अंकों यानी 0.06 फीसदी की बढ़त के साथ 39,839.25 पर बंद हुआ. निफ्टी भी 6.45 अंकों यानी 0.05 फीसदी बढ़त के साथ 11,916.75 पर बंद हुआ. बंबई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) का 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक सेंसेक्स सुबह 91.09 अंकों की मजबूती के साथ 39,907.57 पर खुला और सत्र के दौरान उतार-चढ़ाव का दौर बना रहा. सत्र के आखिर में सेंसेक्स 22.77 अंकों यानी 0.06 फीसदी बढ़त के साथ 39,839.25 पर बंद हुआ. कारोबार के दौरान सेंसेक्स का ऊपरी स्तर 39,934.99 रहा, जबकि निचला स्तर 39,732.38 रहा. 

निफ्टी का निचला स्तर 11,887.05 रहा
नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का 50 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक निफ्टी भी सत्र के आरंभ में 21.85 अंकों की बढ़त के साथ 11,932.15 पर खुला और सत्र के दौरान 11,945.20 के स्तर तक उछला, जबकि इसका निचला स्तर 11,887.05 रहा. कारोबार के आखिर में निफ्टी महज 6.45 अंकों यानी 0.05 फीसदी की बढ़त के साथ 11,916.75 पर बंद हुआ. बीएसई के मिड-कैप और स्मॉल-कैप सूचकांकों में भी बढ़त दर्ज की गई. मिड-कैप सूचकांक 16.36 अंकों यानी 0.11 फीसदी तेजी के साथ 14,961.86 पर बंद हुआ और स्मॉल-कैप सूचकांक 36.91 अंकों यानी 0.26 फीसदी तेजी के साथ 14,320.04 पर बद हुआ. 

12 सेक्टरों के सूचकांकों में तेजी
बीएसई के 19 सेक्टरों में से 12 सेक्टरों के सूचकांकों में तेजी, जबकि छह में गिरावट दर्ज की गई और एक सेक्टर का सूचकांक सपाट बंद हुआ. सर्वाधिक तेजी वाले सेक्टरों में रियल्टी (0.76 फीसदी), पूंजीगत वस्तुएं (0.57 फीसदी), बिजली (0.47 फीसदी), एफएमसीजी (0.41 फीसदी) और औद्योगिक (0.37 फीसदी) शामिल रहे. सर्वाधिक गिरावट वाले पांच सेक्टरों में सूचना प्रौद्योगिकी (0.86 फीसदी), प्रौद्योगिकी (0.66 फीसदी), उपभोक्ता टिकाऊं वस्तुएं (0.11 फीसदी), ऑटो (0.09 फीसदी) और हेल्थकेयर (0.09 फीसदी) शामिल रहे, जबकि धातु सेक्टर का सूचकांक सपाट बंद हुआ.