close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

7 हफ्ते बाद आई शेयर बाजार में गिरावट, IMF के अनुमान से बाजार पर पड़ा असर

लगातार सात सप्ताह की बढ़त के बाद इस सप्ताह भारतीय शेयर बाजारों में गिरावट दर्ज की गई. पूरे सप्ताह उतार-चढ़ाव का दौर बना रहा, लेकिन कारोबारी रुझान कमजोर रहा. अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष द्वारा वैश्विक अर्थव्यवस्था के विकास दर अनुमान में कटौती का बाजार पर असर देखने को मिला. साथ ही, देश के चुनावी माहौल और चौथी तिमाही के नतीजों को लेकर भी निवेशक सतर्कता बरत रहे थे.

7 हफ्ते बाद आई शेयर बाजार में गिरावट, IMF के अनुमान से बाजार पर पड़ा असर

नई दिल्ली : लगातार सात सप्ताह की बढ़त के बाद इस सप्ताह भारतीय शेयर बाजारों में गिरावट दर्ज की गई. पूरे सप्ताह उतार-चढ़ाव का दौर बना रहा, लेकिन कारोबारी रुझान कमजोर रहा. अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष द्वारा वैश्विक अर्थव्यवस्था के विकास दर अनुमान में कटौती का बाजार पर असर देखने को मिला. साथ ही, देश के चुनावी माहौल और चौथी तिमाही के नतीजों को लेकर भी निवेशक सतर्कता बरत रहे थे. कारोबारी सप्ताह के आखिरी सत्र में हालांकि तेजी दर्ज की गई, लेकिन साप्ताहिक आधार पर प्रमुख संवेदी सूचकांकों में सात सप्ताह बाद गिरावट दर्ज की गई. बंबई स्टॉक एक्सचेंज (BSE) के प्रमुख संवेदी सूचकांक सेंसेक्स पिछले सप्ताह के मुकाबले इस कारोबारी सप्ताह 95.12 अंकों यानी 0.24 फीसदी कमजोरी के साथ 38,767.11 पर बंद हुआ.

निफ्टी में भी पिछले सप्ताह के मुकाबले गिरावट
नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (NSE) का प्रमुख संवेदी सूचकांक पिछले सप्ताह के मुकाबले 22.50 अंकों यानी 0.19 फीसदी गिरावट के साथ 11,643.45 पर बंद हुआ. बीते सप्ताह के मुकाबले बीएसई मिड कैप सूचकांक 82.91 अंकों यानी 0.53 फीसदी गिरावट के साथ 15,426.45 पर बंद हुआ और स्मॉल कैप सूचकांक 23.69 अंकों यानी 0.16 फीसदी गिरावट के साथ 15,022.18 पर रहा.

सोमवार को शेयर बाजार में रही भारी उतार-चढ़ाव
सप्ताह के आरंभ में सोमवार को शेयर बाजार में भारी उतार-चढ़ाव के बाद सेंसेक्स 161.70 अंकों यानी 0.42 फीसदी गिरावट के साथ 38,700.53 पर बंद हुआ और निफ्टी 61.45 अंकों यानी 0.53 फीसदी कमजोरी के साथ 11,604.50 पर बंद हुआ. अगले दिन मंगलवार को हालांकि तेजी लौटी और सेंसेक्स 238.69 अंकों यानी 0.62 फीसदी तेजी के साथ 38,939.22 पर बंद हुआ. निफ्टी भी 67.45 अंकों यानी 0.58 फीसदी तेजी के साथ 11,671.95 पर बंद हुआ.

आईएमएफ ने विकास अनुमान में की कटौती
हालांकि यह तेजी आगे जारी नहीं रह पाई और अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष द्वारा वैश्विक अर्थव्यवस्था के विकास अनुमान में फिर कटौती करने के कारण सप्ताह के तीसरे कारोबार सत्र में बुधवार को घरेलू शेयर बाजारों में भारी गिरावट आई. सेंसेक्स बुधवार को 353.87 अंकों यानी 0.91 फीसदी गिरावट के साथ 38,585.35 पर बंद हुआ. निफ्टी 87.65 अंकों यानी 0.75 फीसदी गिरावट के साथ 11,584.30 पर बंद हुआ.

अगले दिन हालांकि बाजार बढ़त के साथ बंद हुआ, लेकिन कारोबारी रुझान कमजोर रहा, क्योंकि निवेशकों की नजर शुक्रवार को जारी होने वाले प्रमुख कंपनियों के चौथी तिमाही के नतीजों पर टिकी थी. सेंसेक्स गुरुवार को मामूली 21.66 अंकों यानी 0.06 फीसदी बढ़त के साथ 38,607.01 पर बंद हुआ, जबकि निफ्टी 12.40 अंकों यानी 0.11 फीसदी तेजी के साथ 11,596.70 पर बंद हुआ. कारोबारी सप्ताह के आखिर में शुक्रवार को भी तेजी जारी रही और सेंसेक्स 160.10 अंकों यानी 0.41 फीसदी बढ़त के साथ 38,767.11 पर बंद हुआ. निफ्टी 46.76 अंकों यानी 0.4 फीसदी की बढ़त के साथ 11,643.45 पर बंद हुआ.