सस्ता सोना खरीदने का मौका! आज से शुरू हुई स्कीम, Extra Offer के लिए यहां से करें खरीदारी
X

सस्ता सोना खरीदने का मौका! आज से शुरू हुई स्कीम, Extra Offer के लिए यहां से करें खरीदारी

Sovereign Gold Bond Scheme 2020-21 Series 7: वित्त वर्ष 2020-21 के लिए 25 अक्टूबर यानी आज से रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया Sovereign Gold Bond की सातवीं सीरीज लॉन्च की है. इसका सब्सक्रिप्शन 29 अक्टूबर तक चलेगा. 

सस्ता सोना खरीदने का मौका! आज से शुरू हुई स्कीम, Extra Offer के लिए यहां से करें खरीदारी

नई दिल्ली: Sovereign Gold Bond Scheme 7: बढ़ती महंगाई के बीच एक बार फिर सस्ता सोना खरीदने का मौका है. सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड स्कीम 2021-22 की सातवीं सीरीज (Sovereign Gold Bond Scheme 2021-22 – Series 7) की बिक्री 25 अक्टूबर से शुरू हो गई है. इसके लिए सब्सक्रिप्शन 29 अक्टूबर तक चलेगा. सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड आरबीआई (RBI) सरकार की ओर से जारी करता है. आइए जानते हैं कि कैसे और कहां से आप इसकी खरीदारी कर सकते हैं और एक्स्ट्रा ऑफर पा सकते हैं. 

जानिए क्या है रेट?

वित्त मंत्रालय (Finance Ministry) ने बताया कि 2021-22 सीरीज का यह सातवां चरण है. सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड स्कीम 2021-22 की इस किश्त के लिए इश्यू प्राइस 4,765 रुपये प्रति ग्राम तय किया गया है. सरकार ने आरबीआई से विचार कर उन निवेशकों को निर्गम मूल्य से 50 रुपये प्रति ग्राम की छूट देने का फैसला किया है जो ऑनलाइन आवेदन करते हैं और भुगतान डिजिटल मोड के माध्यम से करते हैं. ऐसे निवेशकों के लिए गोल्ड बॉन्ड का निर्गम मूल्य 4,715 रुपये प्रति ग्राम होगा. यानी 10 ग्राम पर आपको 500 रुपये की छूट मिलेगी.

ये भी पढ़ें- Rakesh Jhunjhunwala का पसंदीदा स्टाॅक साल के उच्चतम स्तर पर! इंवेस्टर्स हुए मालामाल, जानिए क्या है वजह?

मिलते हैं जबरदस्त फायदे

गौरतलब है कि इस स्कीम में निवेशकों को सालाना 2.5 फीसदी दर से ब्याज का फायदा मिलता है. इस स्कीम में कैपिटल गेन टैक्स में भी छूट मिलती है. इस स्कीम के तहत गोल्ड को खरीदने में कोई जीएसटी और मेकिंग चार्ज नहीं लगता है. आप चाहें तो इसके तहत 4 किग्रा सोने के बॉन्ड खरीद सकते हैं. इसके अलावा ट्रस्ट या फिर संस्था 20 किग्रा तक के बॉन्‍ड खरीद सकती हैं.

कहां से खरीद सकेंगे सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड?

मंत्रालय के अनुसार, सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड स्मॉल फाइनेंस बैंक और पेमेंट बैंक को छोड़ कर सभी बैंक, स्टॉक होल्डिंग कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (SHCIL), निर्धारित डाकघरों मान्यता प्राप्त स्टॉक एक्सचेंजों (Stock Exchanges), नेशनल स्टॉक एक्सचेंज ऑफ इंडिया लिमिटेड (NSE) और बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज लिमिटेड (BSE) से खरीदे जा सकते हैं.

ये भी पढ़ें- सिर्फ 15 हजार रुपये लगाकर शुरू करें बिजनेस! 3 महीने में ही कमा लेंगे 3 लाख, जानें कैसे?

कितने साल बाद मैच्योरिटी 

Sovereign Gold Bond की मैच्योरिटी 8 साल की होती है. लेकिन पांच साल बाद अगले ब्याज भुगतान की तारीख पर आप इस स्कीम से निकल सकते हैं. सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड में निवेशक को कम से कम एक ग्राम सोने के लिए निवेश करना जरूरी है. जरूरत पड़ने पर निवेशक सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड पर लोन भी ले सकता है लेकिन गोल्ड बॉन्ड को गिरवी रखना होगा.

कौन खरीद सकता है सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड?

कोई भी व्यक्ति और हिंदू अविभाजित परिवार ज्यादा से ज्यादा चार किलो तक की कीमत का गोल्ड बॉन्ड खरीद सकता है. ट्रस्ट और ऐसी ही दूसरी संस्थाओं के लिए यह सीमा 20 किलो सोने के बराबर कीमत तक रखी गई है. सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड संयुक्त ग्राहक के तौर पर भी खरीदा जा सकता है. इसे नाबालिग के नाम पर भी खरीद सकते हैं. नाबालिग के मामले में सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड को लेने के लिए उसके माता-पिता या अभिभावक को अप्लाई करना होगा.

बिजनेस से जुड़ी अन्य खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Trending news