close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

मेहुल चौकसी अपनी सेहत के बारे में सच बोल रहा या झूठ, जांच करेगी मेडिकल टीम

मुंबई हाईकोर्ट ने सोमवार को कहा कि एक स्पेशलिस्ट की टीम इस मामले की जांच करेगी कि मेहुल चौकसी एंटीगुआ से एयर एंबुलेंस से लाने के लिए फिजिकली फिट है कि नहीं. 

मेहुल चौकसी अपनी सेहत के बारे में सच बोल रहा या झूठ, जांच करेगी मेडिकल टीम
स्पेशलिस्ट टीम 9 जुलाई तक हाईकोर्ट में अपनी रिपोर्ट जमा करेगी. (फाइल)

मुंबई: पिछले दिनों भगोड़ा हीरा कारोबारी मेहुल चौकसी की तरफ से मुंबई हाईकोर्ट में एफिडेविट जमा कर कहा गया था कि वह जांच में सहयोग करने के लिए पूरी तरह तैयार है. वह देश छोड़कर भागा नहीं है. क्योंकि, वह बीमार चल रहा है इसलिए वह एंटीगुआ से भारत नहीं लौट सकता. उसने कहा कि वीडियो कान्फ्रेंसिंग के जरिए उससे एंटीगुआ से ही पूछताछ की जाए तो वह उसमें शामिल होना चाहता है. मामले की सुनवाई करते हुए मुंबई हाईकोर्ट ने सोमवार को कहा कि एक स्पेशलिस्ट की टीम इस मामले की जांच करेगी कि वह एयर एंबुलेंस से आने के लिए फिजिकली फिट है कि नहीं. चौकसी के वकीलों को कहा गया है कि वह 1 जुलाई (सोमवार) तक लेटेस्ट हेल्थ रिपोर्ट स्पेशलिस्ट टीम के सामने जमा करे. स्पेशलिस्ट टीम 9 जुलाई तक हाईकोर्ट में अपनी रिपोर्ट जमा करेगी. इस मामले की अगली सुनवाई 10 जुलाई को होगी.

17 जून को मेहुल चौकसी के वकीलों ने मुंबई हाईकोर्ट के सामने मेडिकल हिस्ट्री भी जमा किया था. इस मामले में प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने एयर एंबुलेंस की व्यवस्था करने की पेशकश की थी. ED ने एंटीगुआ से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए पूछताछ वाली याचिका कर दी थी और कहा था कि जरूरत पड़ने पर उसे एयर एंबुलेंस से भी भारत लाया जा सकता है.

ED की तरफ से कहा गया कि भारत में बेहतर चिकित्सा सुविधाएं उपलब्ध हैं. अगर, चौकसी वापस भारत आएगा तो उनको ये सुविधाएं प्रदान की जाएंगी. ईडी ने कहा कि चाहे कोई आरोपी ही क्यों न हो, एजेंसी की मंशा कभी किसी व्यक्ति की सेहत के साथ खिलवाड़ करना नहीं रही है. पीएनबी को 14,000 करोड़ रुपये का चूना लगाने का मामला पिछले साल जनवरी में उजागर होने के बाद चौकसी देश से भाग गया था. इस मामले में हीरा कारोबारी नीरव मोदी और खुद चौकसी आरोपी हैं.