हवाई यात्रियों को राहत के लिए SpiceJet का बड़ा कदम, दो दिन बाद शुरू होंगी 28 उड़ानें

लगातार वित्तीय संकट का सामना करने के बाद पिछले दिनों जेट एयरवेज (Jet Airways) की उड़ान अस्थायी रूप के लिए बंद हो गई. इसके बाद अब यात्रियों की सुविधा के लिए स्पाइसजेट (SpiceJet) ने 28 डेली फ्लाइट शुरू करने की घोषणा की है.

हवाई यात्रियों को राहत के लिए SpiceJet का बड़ा कदम, दो दिन बाद शुरू होंगी 28 उड़ानें

नई दिल्ली : लगातार वित्तीय संकट का सामना करने के बाद पिछले दिनों जेट एयरवेज (Jet Airways) की उड़ान अस्थायी रूप के लिए बंद हो गई. इसके बाद अब यात्रियों की सुविधा के लिए स्पाइसजेट (SpiceJet) ने 28 डेली फ्लाइट शुरू करने की घोषणा की है. स्पाइसजेट ने मंगलवार को कहा कि वह 26 अप्रैल से अपने घरेलू नेटवर्क पर नई दिल्ली और मुंबई से अन्य शहरों के लिए 28 नई दैनिक उड़ानें शुरू करेगी.

इन रूट पर चलेंगी फ्लाइट
कंपनी ने कहा कि मुंबई से नई उड़ानें मुंबई-जयपुर- मुंबई, मुंबई-अमृतसर- मुंबई, मुंबई- मैंगलोर- मुंबई और मुंबई- कोयम्बटूर-मुंबई मार्ग पर होंगी. इसके अलावा स्पाइसजेट ने मुंबई-पटना-मुंबई, मुंबई-हैदराबाद-मुंबई और मुंबई-कोलकाता-मुंबई मार्गों पर भी परिचालन शुरू करने की घोषणा की है. स्पाइसजेट ने कहा, 'एयरलाइन दिल्ली से पटना और दिल्ली से बेंगलुरू के लिए भी सेवा शुरू करेगी. इसके अलावा मुंबई-दिल्ली- मुंबई मार्ग पर भी तीन और उड़ानें शुरू की जाएंगी.'

यात्रियों की असुविधा में कमी आएगी
दिल्ली से मुंबई और दिल्ली से बेंगलुरू की उड़ान टर्मिनल दो से परिचालित होगी और इनकी उड़ान संख्या चार अंकों की होगी, जो 8 मई से शुरू होगी. स्पाइजेट की मुख्य बिक्री एवं राजस्व अधिकारी शिल्पा भाटिया ने कहा, 'दिल्ली और मुंबई से अतिरिक्त उड़ानों शुरू करने को लेकर हमें खुशी हो रही हैं. हमें उम्मीद है कि नई उड़ानें भारतीय विमानन बाजार में क्षमता की कमी के कारण यात्रियों को हो रही असुविधा को कम करने में मदद करेंगी.'

अतंरराष्ट्रीय उड़ानें शुरू करने की भी घोषणा
स्पाइसजेट ने मई के आखिर से मुंबई से हांगकांग, जेद्दाह, दुबई, कोलंबो, ढाका, रियाद, बैंकांक और काठमांडू से अतंरराष्ट्रीय उड़ानें शुरू करने की भी घोषणा की है. गौरतलब है कि वित्तीय संकट से जूझ रही जेट एयरवेज ने पिछले सप्ताह परिचालन को अस्थायी तौर पर बंद कर दिया था और सरकारी अधिकारी हवाई अड्डे पर इसकी वजह से खाली हुई समयसारणी का समय दूसरी एयरलाइन कंपनियों को देने की प्रक्रिया में है.