close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

स्टर्लिंग बायोटेक केस में CBI ने बैंक अधिकारियों को तलब किया

स्टर्लिंग बायोटेक केस में सीबीआई (CBI) की बैंकिंग फ्रॉड सेल ने बैंक अधिकारियों को तलब करना शुरू कर दिया है. जी मीडिया को सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, CBI की बैंकिंग फ्रॉड सेल ने पिछले हफ्ते SBI के अधिकारियों को तलब किया था.

स्टर्लिंग बायोटेक केस में CBI ने बैंक अधिकारियों को तलब किया

नई दिल्ली : स्टर्लिंग बायोटेक केस में सीबीआई (CBI) की बैंकिंग फ्रॉड सेल ने बैंक अधिकारियों को तलब करना शुरू कर दिया है. जी मीडिया को सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, CBI की बैंकिंग फ्रॉड सेल ने पिछले हफ्ते SBI के अधिकारियों को तलब किया था. जबकि जल्द ही दूसरे बैंकों के अधिकारियों को इस केस में बुलाया जाएगा. CBI की टीम ये समझना चाहती है कि आखिर किस आधार पर बैंकों ने स्टर्लिंग बायोटेक और ग्रुप की दूसरी कंपनियों को लोन दिया था.

बैंक अधिकारियों से गहन पूछताछ की जा रही
जी मीडिया ने बताया था कि जून के आखिरी हफ्ते में CBI की टीम ने मुंबई में बैंकों से लोन से जुड़े दस्तावेज जुटाए थे. जिनके आधार पर अब बैंकों के अधिकारियों से गहन पूछताछ की जा रही है. CBI इस मामले में SBI कैप्स की भूमिका को लेकर भी जांच कर रही है. क्योंकि स्टर्लिंग ग्रुप के लिए SBI कैप्स ने दस्तावेज तैयार कर लोन दिलाने के लिए बैंकों से तालमेल कराया था. स्टर्लिंग बायोटेक पर ही अकेले बैंकों को करीब 8100 करोड़ रुपए का लोन बाकी है.

ईडी भी कर रही तहकीकात
स्टर्लिंग ग्रुप को लोन बांटने वाले बैंकों में आंध्रा बैंक, स्टेट बैंक ऑफ इंडिया, यूको बैंक, बैंक ऑफ इंडिया, इलाहाबाद बैंक, पंजाब नेशनल बैंक, इंडियन ओवरसीज बैंक, यूनियन बैंक ऑफ इंडिया जैसे सरकारी बैंक शामिल हैं. इस मामले की CBI, ईडी जैसी जांच एजेंसियां तहकीकात कर रही हैं.

स्टर्लिंग बायोटेक केस में प्रमुख बैंक
- आंध्रा बैंक
- एसबीआई
- यूको बैंक
- इलाहाबाद बैंक
- बैंक ऑफ इंडिया
- पंजाब नेशनल बैंक
- इंडियन ओवरसीज बैंक
- यूनियन बैंक ऑफ इंडिया