close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

अब 2 अगस्त को माल्या की याचिका पर सुनवाई करेगा सुप्रीम कोर्ट

बॉम्बे हाईकोर्ट ने 11 जुलाई को माल्या की संपत्तियां कुर्क करने को लेकर विशेष अदालत में जारी कार्यवाही पर रोक लगाने से इनकार कर दिया था जिसके बाद वह सुप्रीम कोर्ट पहुंचा है.

अब 2 अगस्त को माल्या की याचिका पर सुनवाई करेगा सुप्रीम कोर्ट
फाइल फोटो

नई दिल्ली: सुप्रीम कोर्ट शराब कारोबारी विजय माल्या की याचिका पर अब शुक्रवार को सुनवाई करेगा. माल्या ने याचिका में कहा है कि उनकी तथा उनके परिजनों की मालिकाना संपत्तियों को कुर्क करने पर रोक लगाई जाए. माल्या ने अपनी याचिका में कहा कि कथित अनियमितताओं के मामलों का सामना कर रहे किंगफिशर एयरलाइंस की संपत्तियों के अलावा अन्य संपत्तियां कुर्क नहीं होनी चाहिए. 

बॉम्बे हाईकोर्ट ने 11 जुलाई को माल्या की संपत्तियां कुर्क करने को लेकर विशेष अदालत में जारी कार्यवाही पर रोक लगाने से इनकार कर दिया था. कोर्ट ने पिछले महीने माल्या द्वारा दायर आवेदन खारिज कर दिया था जिसमें धन शोधन रोकथाम कानून (PMLA) से जुड़े मामलों की सुनवाई कर रही विशेष अदालत के सामने लंबित कार्यवाही पर रोक का अनुरोध किया गया था. 

इस साल पांच जनवरी को, विशेष अदालत (स्पेशल कोर्ट) ने माल्या को भगोड़ा आर्थिक अपराधी घोषित किया था. इसके बाद अदालत ने उनकी संपत्तियां कुर्क करने के लिए कार्यवाही शुरू की थी. माल्या पर भारतीय बैंकों के 9000 करोड़ रुपए बकाया हैं. मुंबई की विशेष अदालत (पीएमएलए) उसे भगोड़ा आर्थिक अपराधी घोषित कर चुकी है. प्रवर्तन निदेशालय देश-विदेश में उसकी संपत्तियां अटैच कर चुका है. माल्या मार्च 2016 में लंदन भाग गया था. वहां की वेस्टमिंस्टर अदालत ने पिछले साल दिसंबर में माल्या के प्रत्यर्पण का फैसला सुनाया था. इसे इंग्लैंड के तत्कालीन गृह मंत्री साजिद जाविद ने भी मंजूरी दे दी थी. माल्या ने फैसले के खिलाफ हाईकोर्ट में अपील की थी. भारत प्रत्यर्पण होने पर माल्या को मुंबई की आर्थर रोड जेल के बैरक नंबर 12 में रखा जाएगा.

(इनपुट- सुमित कुमार)