सिर्फ माल्या-चौकसी और मोदी ही नहीं भागे हैं देश से, भगोड़ों की संख्या जानकर चौंक जाएंगे आप

लेकिन आपको जानकर हैरानी होगी कि भगोड़ों की संख्या तीन से कहीं ज्यादा है. 

सिर्फ माल्या-चौकसी और मोदी ही नहीं भागे हैं देश से, भगोड़ों की संख्या जानकर चौंक जाएंगे आप
फाइल फोटो

नई दिल्ली: देश छोड़कर भागने वाले भगोडों में आप सिर्फ वियज माल्या (Vijay Mallya), मेहूल चौकसी (Mehul Choksi) या नीरव मोदी (Nirav Modi) का ही नाम जानते होंगे. लेकिन आपको जानकर हैरानी होगी कि भगोड़ों की संख्या तीन से कहीं ज्यादा है. विदेश मंत्रालय का कहना है कि देश में अपराध करके भागने वालों की संख्या 70 से ज्यादा है. इन पर संगीन जुर्म के आरोप हैं. हालांकि सरकार अभी तक इन्हें वापस लाने में सफल नहीं हो पाई है.

70 भगोड़ों की तलाश में है भारत
आपको जानकर हैरानी होगी कि अलग-अलग अपराध करके लगभग 70 लोग चुपके से देश छोड़कर भाग चुके हैं. विजय माल्या और नीरव मोदी जैसे हाई-प्रोफाइल मामलों में तो फिर भी जल्द कार्रवाई हो रही है. लेकिन विदेश मंत्रालय लगभग ऐसे 70 लोगों की तलाश में है जो विभिन्न अपराधों को अंजाम देकर यहां से भाग चुके हैं. लोकसभा में विदेश मंत्रालय द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक सरकार लगभग 70 भगोड़ों की तलाश में है जो देश छोड़कर फरार हैं.

विदेश मंत्रालय ने एक सवाल के जवाब में बताया कि इन 70 आरोपियों के खिलाफ रेड कॉर्नर नोटिस, प्रत्यार्पण की अपील और लुक आउट सर्कुलर जारी हो चुका है. कई महत्वपूर्ण मामलों में Fugitive Economic Offenders Act, 2018 के तहत कार्रवाई हो चुकी है. 

बताते चलें कि हाल ही में फरार चल रहे शराब कारोबारी विजय माल्या के स्वामित्व वाला किंगफिशर हाउस तीन साल में एक बार फिर 8वीं बार नीलामी के लिए रखा जा चुका है. वर्तमान में किंगफिशर हाउस डिफंक्ट किंगफिशर एयरलाइंस लिमिटेड (केएएल) का मुख्यालय है. जब्त संपत्ति के लिए बेंगलुरु स्थित ऋण वसूली अधिकरण (डीआरटी) ने एक ऑनलाइन बोली प्रक्रिया के माध्यम से 27 नवंबर को एक नई नीलामी तिथि की घोषणा की है. संपत्ति की पहली नीलामी के दौरान 135 करोड़ रुपये के आरक्षित मूल्य से नीलामी शुरू हुई थी. 2016 में लगभग 150 करोड़ रुपये का मूल्य था. इस बार 8वीं नीलामी के लिए 60 फीसदी की तेज गिरावट के साथ आरक्षित मूल्य केवल 54 करोड़ रुपये से कम पर निर्धारित है.