SC/ST बेरोजगारों के लिए खुशखबरी, 1000 युवाओं को बिजनेसमैन बनाएगी यह विदेशी कंपनी

कैब सेवा प्रदान करने वाली उबर (Uber) तमिलनाडु सरकार के साथ मिलकर एससी/एसटी बेरोजगारों के लिए आकर्षक योजना लेकर आई है.

SC/ST बेरोजगारों के लिए खुशखबरी, 1000 युवाओं को बिजनेसमैन बनाएगी यह विदेशी कंपनी
राज्‍य सरकार 1000 एससी/एसटी ड्राइवरों को 5 लाख रुपए तक की वित्‍तीय सहायता मुहैया कराएगी. (फाइल फोटो)

नई दिल्‍ली: कैब सेवा प्रदान करने वाली उबर (Uber) तमिलनाडु सरकार के साथ मिलकर एससी/एसटी बेरोजगारों के लिए आकर्षक योजना लेकर आई है. तमिलनाडु सरकार ने उबर से इस संबंध में एक करार किया है. इस करार के तहत राज्‍य सरकार 1000 एससी/एसटी ड्राइवरों को 5 लाख रुपए तक की वित्‍तीय सहायता मुहैया कराएगी. वहीं उबर इन ड्राइवरों को प्रशिक्षण देगी. राज्‍य सरकार की इस योजना का नाम 'ऐरावत स्‍कीम' है. उबर राज्‍य के समाज कल्‍याण विभाग के डॉ. बीआर आंबेडकर डेवलपमेंट कॉरपोरेशन साथ मिलकर एससी/एसटी समुदाय के लोगों को सूक्ष्‍म उद्यमिता के लिए प्रोत्‍साहित करेगी.

राज्‍य सरकार ने शुरू की ऐरावत स्‍कीम
राज्‍य सरकार के बयान के अनुसार जो लोग ऐरावत स्‍कीम में पंजीकृत होंगे, उबर उन्‍हें अपने एप में ड्राइवर के तौर पर पंजीकृत करेगी. उन्‍हें ट्रेनिंग दी जाएगी और फिर उन्‍हें रोजगार और आय के अफसर मुहैया कराए जाएंगे. उबर राज्‍य सरकार को ऐसे बेरोजगारों की पहचान करने में भी मदद करेगी. ऐसा बेंगलुरु और आसपास के शहरों में होगा. उन्‍हें वित्‍तीय संस्‍थानों से लोन दिलाने में भी मदद मिलेगी. 

taxi cab

टीयर 2 व 3 शहरों में आजीविका कमाने के अवसर बढ़ेंगे
टाइम्‍स ऑफ इंडिया की खबर के मुताबिक समाज कल्‍याण मंत्री प्रियंक खड़गे ने कहा कि उबर के साथ आर्थिक अवसर बढ़ेंगे और टीयर 2 व 3 शहरों में आजीविका कमाने के अवसर बढ़ेंगे. इससे एससी/एसटी समुदाय के परिवारों की अवस्‍था सुधरेगी. मंत्री ने कहा कि सरकार की इच्‍छा बेरोजगार युवकों को उद्यमी बनाने की है. उबर इंडिया एंड साउथ एशिया के अध्‍यक्ष प्रदीप परमेश्‍वरन ने कहा कि तकनीक की मदद से लाखों नौकरियां पैदा की जा सकती हैं. इससे लोगों की आर्थिक स्थिति मजबूत होगी.