उर्जित पटेल लगातार दूसरी बार बने रिजर्व बैंक के डिप्टी गवर्नर

सरकार ने उर्जित पटेल को तीन साल की अवधि के लिये फिर से रिजर्व बैंक का डिप्टी गवर्नर नियुक्त किया है। पटेल का कार्यकाल तीन साल के लिये बढ़ाया जाना काफी अहमियत रखता है, क्योंकि इससे पहले किसी भी डिप्टी गवर्नर को दूसरा कार्यकाल नहीं मिला।

उर्जित पटेल लगातार दूसरी बार बने रिजर्व बैंक के डिप्टी गवर्नर

मुंबई: सरकार ने उर्जित पटेल को तीन साल की अवधि के लिये फिर से रिजर्व बैंक का डिप्टी गवर्नर नियुक्त किया है। पटेल का कार्यकाल तीन साल के लिये बढ़ाया जाना काफी अहमियत रखता है, क्योंकि इससे पहले किसी भी डिप्टी गवर्नर को दूसरा कार्यकाल नहीं मिला।

उल्लेखनीय है कि उर्जित पटेल की अध्यक्षता में गठित समिति ने ही मौद्रिक नीति समिति का मार्ग प्रशस्त किया। केंद्रीय बैंक ने कल शाम (शुक्रवार) जारी एक बयान में कहा, ‘सरकार ने उर्जित पटेल को आरबीआई का डिप्टी गवर्नर फिर से नियुक्त किया है। उनकी नियुक्ति 11 जनवरी 2016 को पदभार संभालने के बाद तीन साल के लिये या अगले आदेश तक के लिये की गयी है।’ पटेल, 11 जनवरी 2013 को केंद्रीय बैंक से जुड़े और मौद्रिक नीति विभाग की अध्यक्षता करते रहे हैं। केंद्रीय बैंक के गवर्नर रघुराम राजन और पटेल पूर्व में वॉशिंगटन में अंतरराष्ट्रीय मुद्राकोष के लिये साथ साथ काम कर चुके हैं।

रिजर्व बैंक गवर्नर रघुराम राजन ने अपने कार्यकाल के पहले ही दिन एक समिति गठित की जिसका अध्यक्ष उर्जित पटेल को बनाया गया। समिति ने रिपोर्ट तैयार की जिसमें रिजर्व बैंक को मुद्रास्फीति का लक्ष्य लेकर चलने वाला केन्द्रीय बैंक बनाने की वकालत की गई।

रिपोर्ट को लेकर काफी विचार विमर्श किया गया। उसके बाद पटेल पैनल की सिफारिशों को पिछले साल फरवरी में सरकार और रिजर्व बैंक के बीच एक समझौते पर हस्ताक्षर के साथ ही स्वीकार कर लिया गया।

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.