अमेरिका : सैमसंग का कस्टम सीपीयू डेवलपमेंट प्रोजेक्ट बंद, जानिए क्‍या था ये

सैमसंग को ब्रिटिश चीप निर्माता एआरएम से कस्टम सीपीयू कोर का लाइसेंस मिलने की उम्मीद है. एआरएम प्रोसेसर्स में वैश्विक नेतृत्वकर्ता है, इन प्रोसेसर्स का इस्तेमाल मोबाइल फोन व टैबलेट कंप्यूटर्स में होता है.

अमेरिका : सैमसंग का कस्टम सीपीयू डेवलपमेंट प्रोजेक्ट बंद, जानिए क्‍या था ये
(प्रतीकात्मक फोटो)

सियोल : दुनिया की सबसे बड़ी मेमोरी चिपमेकर कंपनी सैमसंग (Samsung) इलेक्ट्रॉनिक्स ने अमेरिका (America) में अपने आर एंड डी सेंटर में कस्टम सेंट्रल प्रोसेसर यूनिट (सीपीयू) कोर का विकास कार्य बंद कर दिया है. कोरियाई टेक कंपनी ने कहा कि सैमसंग ने टेक्सास वर्कफोर्स कमीशन को ऑस्टिन व सैन जोस में 31 दिसंबर तक कस्टम सीपीयू के 290 सदस्यों को निकालने के फैसले के बारे में अधिसूचित कर दिया है.

LIVE TV...

समाचार एजेंसी योनहप की रिपोर्ट के मुताबिक, 2012 से शुरू होकर इस प्रोजेक्ट ने एक्सिनोस सीरीज के लिए कस्टम सीपीयू कोर का उत्पादन किया है. यह इसका खुद का मोबाइल चिप ब्रांड है, जो अमेरिकी चीप मेकर क्वालकॉम के स्नैपड्रैगन फैमिली से प्रतिस्पर्धा कर रहा है. सैमसंग के एक अधिकारी ने नाम नहीं जाहिर करने की शर्त पर कहा, "कंपनी ने कस्टम सीपीयू विकास टीमों के पुनर्गठन करने व मूल प्रतिस्पर्धा व क्षमता सुधार पर ध्यान केंद्रित करने का फैसला किया है."

सैमसंग को ब्रिटिश चीप निर्माता एआरएम से कस्टम सीपीयू कोर का लाइसेंस मिलने की उम्मीद है. एआरएम प्रोसेसर्स में वैश्विक नेतृत्वकर्ता है, इन प्रोसेसर्स का इस्तेमाल मोबाइल फोन व टैबलेट कंप्यूटर्स में होता है.

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.