PM मोदी से मिले सिक्का, भारत में नवोन्मेष की खातिर इन्फोसिस 1500 करोड़ रुपये खर्च करेगी

देश की दिग्गज सूचाना प्रौद्योगिकी कंपनी इन्फोसिस टेक्नोलाजीज के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) विशाल सिक्का ने आज यहां प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की और बताया कि उनकी कंपनी भारत में साफ्टवेयर व सेवाओं के नवोन्मेष के लिए 25 करोड़ डॉलर यानी 1500 करोड़ रुपये खर्च करेगी।

PM मोदी से मिले सिक्का, भारत में नवोन्मेष की खातिर इन्फोसिस 1500 करोड़ रुपये खर्च करेगी

नई दिल्ली : देश की दिग्गज सूचाना प्रौद्योगिकी कंपनी इन्फोसिस टेक्नोलाजीज के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) विशाल सिक्का ने आज यहां प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की और बताया कि उनकी कंपनी भारत में साफ्टवेयर व सेवाओं के नवोन्मेष के लिए 25 करोड़ डॉलर यानी 1500 करोड़ रुपये खर्च करेगी।

इन्फोसिस देश की दूसरी सबसे बड़ी आईटी सेवा कंपनी है। सिक्का ने स्मार्ट व डिजिटल प्रौद्योगिकी से समर्थ भारत के लिए प्रधानमंत्री के दृष्टिकोण तथा इसमें इन्फोसिस की भागीदारी के बारे में भी प्रधानमंत्री से चर्चा की। सिक्का ने कहा कि इन्फोसिस उज्जैन, मध्यप्रदेश में 2016 में होने वाले कुंभ मेले के प्रबंधन के लिए साफ्टवेयर बनाएगी।

सिक्का ने कहा कि मोदी ने कंपनी के मैसूर स्थित परिसर को इस साल अप्रैल में देश के पहले माडल स्मार्ट शहर के तौर पर समर्पित करने पर सहमति जताई। सिक्का इन्फोसिस के पहले गैर संस्थापक सीईओ हैं। उन्होंने कहा,‘आज मैंने प्रधानमंत्री से मुलाकात की। हमने स्मार्ट शहरों, स्मार्ट बुनियादी ढांचे पर चर्चा की जो कि उनके दिल के करीब है।’

सिक्का ने कहा,‘दूसरा बड़ा क्षेत्र नवोन्मेष है। प्रधानमंत्री का नवोन्मेष को लेकर दृष्टिकोण है। जैसा कि पिछले सप्ताह घोषणा हुई थी, हमारे पास 50 करोड़ डालर का नवोन्मेष कोष है। हमने फैसला किया है कि इसमें से आधा (जो कि 1500 करोड़ रुपये से अधिक है) केवल भारत में न्वोन्मेष को समर्पित होगा। हम इसे ‘भारत में नवोन्मेष’ कहेंगे।’ स्मार्ट शहरों के बारे में उन्होंने कहा कि इन्फोसिस परिसर दुनिया भर में अद्भुत जगह हैं। वे हरित व उर्जा दक्ष परिसर हैं।

उन्होंने कहा,‘हमारा मैसूर परिसर एक छोटी स्मार्ट सिटी ही है। वहां हर दिन 30,000 लोग रहते व काम करते हैं। हम अपने मैसूर कैंपस को पहली माडल स्मार्ट सिटी बनाने जा रहे हैं और प्रधानमंत्री ने हमारे इस निमंत्रण को स्वीकार कर लिया है।’ इन्फोसिस का मैसूर परिसर 350 एकड़ से भी अधिक क्षेत्र में फैला है। यहां उसका विश्वविद्याल भी है। सिक्का ने कहा,‘हम इसे प्रधानमंत्री के स्मार्ट, डिजिटल व स्वच्छ भारत के लिए दृष्टिकोण का हिस्सा बनाना चाहते हैं। यहां सबकुछ डिजिटल है।’ कुंभ मेले के बारे में उन्होंने कहा कि बैठक के बाद टीमों ने इस बारे में विचार विमर्श शुरू कर दिया है।

सिक्का का जन्म शाजापुर में हुआ जो कि उज्जैन के करीब ही है। उन्होंने कहा कि यह काम कर उन्हें बहुत खुशी होगी। कंपनी कुंभ मेला, क्लीन टायलेट के लिए साफ्टवेयर बनाने पर काम करेगी। सिक्का का बचपन व किशोरावस्था गुजरात में भी बीती। उन्होंने कहा कि उत्तरायन (मकर संक्रांति) को लेकर अपनी यादों को भी उन्होंने मोदी से साझा किया।

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.