close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

सितंबर में सस्ती रहीं खाने-पीने की चीजें, थोक महंगाई दर गिरकर 0.33 फीसदी रही

सितंबर का महीना आम आदमी के लिए बड़ी राहत लेकर आया. इस महीने खाने-पीने की सामानों के दामों में बड़ी गिरावट दर्ज की गई. थोक महंगाई दर अगस्त में 1.08 फीसदी थी, जो कि सितंबर में घटकर 0.33 फीसदी पर आ गई.

सितंबर में सस्ती रहीं खाने-पीने की चीजें, थोक महंगाई दर गिरकर 0.33 फीसदी रही

नई दिल्ली : सितंबर का महीना आम आदमी के लिए बड़ी राहत लेकर आया. इस महीने खाने-पीने की सामानों के दामों में बड़ी गिरावट दर्ज की गई. थोक महंगाई दर अगस्त में 1.08 फीसदी थी, जो कि सितंबर में घटकर 0.33 फीसदी पर आ गई. थोक महंगाई दर में बीते महीने बड़ी गिरावट दर्ज की गई है. जबकि अगस्त में WPI में कोई बदलाव नहीं हुआ था. पिछले साल सितंबर, 2018 में यह दर 5.22 फीसदी पर थी.

सितंबर में महंगाई इंडेक्स में जो बदलाव हुए हैं वे इस तरह हैं-

- प्राइमरी आर्टिकल महंगाई दर 6.43% से घटकर 5.54%
- मैन्युफैक्चरिंग महंगाई दर -0.42%
- खाद्य महंगाई दर 5.75% से बढ़कर 5.98%
- सब्जियों की WPI 13.07% से बढ़कर 19.43%
- दाल महंगाई दर 16.36% से बढ़कर 17.94%
- नॉन-फूड महंगाई दर 4.76% से घटकर 2.18%
- केमिकल महंगाई दर 0.42% के मुकाबले -1.42%
- कोर महंगाई दर -0.3% के मुकाबले -1.1%
- फ्यूल, पावर महंगाई दर -4% के मुकाबले -7.05%
- दूध महंगाई दर 1.18% से बढ़कर 1.32%
- प्याज महंगाई दर 33.01% से बढ़कर 122.40%
- चीनी महंगाई दर 1.37% से बढ़कर 4.65%
- जुलाई संशोधित WPI 1.08% से बढ़कर 1.17%

थोक महंगाई को मोर्चे पर सरकार समेत आम आदमी को राहत मिली है. हालांकि इस महीने प्याज के दामों में तेजी के चलते सितंबर में प्याज की थोक महंगाई 33.01 फीसदी से बढ़कर 122.40 फीसदी रही. दालों की कीमतों में मामूली चढ़त के साथ दालों की थोक महंगाई 16.36 फीसदी से बढ़कर 17.94 फीसदी पर आ गई. मैन्युफैक्चर्ड प्रोडक्ट की थोक मगंगाई 0 फीसदी से घटकर -0.42 फीसदी और फ्यूल एंड पावर की थोक महंगाई -4 फीसदी से घटकर -7.05 फीसदी रही है.