close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

सस्ते तेल का दिखा असर, जुलाई महीने में थोक महंगाई दर गिरकर 1.08% पर पहुंची

प्राइमरी आर्टिकल मंहगाई दर 6.72% से घटकर 5.03% पहुंच गई है. मैन्युफैक्चरिंग महंगाई दर 0.94% से घटकर 0.34% पर पहुंच गई है.

सस्ते तेल का दिखा असर, जुलाई महीने में थोक महंगाई दर गिरकर 1.08% पर पहुंची
प्रतीकात्मक फोटो.

नई दिल्ली: सस्ते तेल और फूड आइटम्स की वजह से जुलाई महीने में थोक महंगाई दर (WPI) में गिरावट दर्ज की गई है. जुलाई महीने में WPI महंगाई दर 1.08% पर पहुंच गई है. जून महीने में यह महंगाई दर 2.02 फीसदी थी. वहीं, जुलाई 2018 में महंगाई दर 9 (WPI) 5.27 फीसदी थी.

प्राइमरी आर्टिकल मंहगाई दर 6.72% से घटकर 5.03% पहुंच गई है. मैन्युफैक्चरिंग महंगाई दर 0.94% से घटकर 0.34% पर, खाद्य महंगाई दर 5.04% से घटकर 4.54%, फ्यूल और पावर महंगाई दर -2.20% से घटकर -3.64% पर पहुंच गई है.

वहीं, मई संशोधित WPI महंगाई दर 2.45% से बढ़कर 2.79%. सब्जियों की WPI 24.76% से घटकर 10.67%, दाल महंगाई दर 23.06% से घटकर 20.08%, चीनी महंगाई दर 4.01% से घटकर -0.94%, नॉन-फूड महंगाई दर 5.06% से घटकर 4.29% और केमिकल महंगाई दर 1.45% से घटकर 0.42% पर पहुंच गई है.