अच्छी खबर: आज से दोबारा खुलेगा यस बैंक, जानिए क्या होगा नया बदलाव

आज शाम 6 बजे से संपूर्ण बैंकिंग सेवा बहाल कर दी जाएगी.

अच्छी खबर: आज से दोबारा खुलेगा यस बैंक, जानिए क्या होगा नया बदलाव
फाइल फोटो

नई दिल्ली: कोरोना वायरस के डर के बीच बुधवार को एक अच्छी खबर आई है. आज से यस बैंक (Yes Bank) के ब्रांच दोबारा ग्राहकों के लिए खुल जाएंगे. इस बाबत सोमवार को ही यस बैंक ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से जानकारी साझा किया था. आज शाम 6 बजे से संपूर्ण बैंकिंग सेवा बहाल कर दी जाएगी. यस बैंक का कहना है कि पहले की तरह ही सभी काम होंगे. साथ ही ग्राहकों को पैसे निकालने से लेकर जमा करने और सभी तरह के ट्रांजेक्शन करने की आजादी होगी.

49 प्रतिशत हिस्सेदार SBI को
एसबीआई (SBI) इस संकटग्रस्त बैंक में 49 प्रतिशत हिस्सेदारी रखेगा और उसे 6,050 करोड़ रुपये कुल मूल्य के 605 शेयर आवंटित किए गए हैं. देश के सबसे बड़े बैंक एसबीआई ने वास्तव में 7,250 करोड़ रुपये का वादा किया है. गुरुवार को बैंक ने कहा कि उसके केंद्रीय बोर्ड की कार्यकारी समिति (ईसीसीबी) ने 10 रुपये प्रति शेयर के हिसाब से यस बैंक में 725 करोड़ शेयर खरीदने की मंजूरी दे दी है.

पैसा सुरक्षित रहने का किया आरबीआई ने दावा
उधर भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) के गवर्नर शक्तिकांत दास ने यस बैंक के जमाकर्ताओं को आश्वस्त किया कि उनकी गाढ़ी कमाई सुरक्षित है. उन्होंने यस बैंक की पुनर्गठन योजना को विश्वसनीय और टिकाऊ बताया. दास ने यह भी कहा कि जरूरत पड़ी तो केंद्रीय बैंक इस निजी बैंक में अतिरिक्त तरलता डालेगा. उन्होंने जमाकर्ताओं से कहा कि बुधवार (18 मार्च) को प्रतिबंध समाप्त होने के बाद अंधाधुंध निकासी न करें. दास ने यस बैंक और कोरोनावायरस संकट पर यहां मीडिया को संबोधित करते हुए कहा, "यह एक बहुत ही विश्वसनीय और टिकाऊ पुनर्गठन योजना है."

ये भी पढ़ें: सोने-चांदी के दामों में आई है रिकॉर्ड तोड़ गिरावट, जल्द पढ़ें वरना पड़ेगा पछताना

उल्लेखनीय है कि सरकार ने पिछले शनिवार को नकदी संकट से जूझ रहे यस बैंक लिमिटेड के पुनर्गठन योजना को अधिसूचित किया, जिसके साथ ही बैंक को अपना कामकाज पूर्ण रूप से शुरू करने का रास्ता साफ हो गया. अधिसूचित योजना की शर्तो के अनुसार प्रतिबंध अब 18 मार्च को शाम छह बजे समाप्त हो जाएगा. निजी बैंकों द्वारा यस बैंक में किए गए निवेश की राशि अबतक 3,950 करोड़ रुपये हो गई है. आरबीआई ने पांच मार्च से यस बैंक को अपने नियंत्रण में ले लिया था और निकासी की सीमा महीने में 50 हजार रुपये तय कर दी थी. 

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.