ज़ी एंटरटेनमेंट-सोनी पिक्चर्स के मर्जर का ऐलान, बोर्ड से सैद्धांतिक मंजूरी, 90 दिनों में पूरा होगा ड्यू डिलिजेंस

ज़ी एंटरटेनमेंट और सोनी पिक्चर्स नेटवर्क्स इंडिया के बीच विलय (Zee Entertainment and Sony Pictures Networks India Merger) का ऐलान कर दिया गया है. विलय के बाद भी पुनीत गोयनका (Punit Goenka) एमडी और सीईओ बने रहेंगे.

ज़ी एंटरटेनमेंट-सोनी पिक्चर्स के मर्जर का ऐलान, बोर्ड से सैद्धांतिक मंजूरी, 90 दिनों में पूरा होगा ड्यू डिलिजेंस

Zeel-Sony Merger: ज़ी एंटरटेनमेंट-सोनी पिक्चर्स नेटवर्क्स इंडिया के बीच मर्जर का ऐलान हो गया है. ZEEL के बोर्ड ने मर्जर को सैद्धांतिक मंजूरी दे दी है. Sony मर्जर के बाद बनने वाली कंपनी में 11,605.94 करोड़ रुपए निवेश करेगी. पुनीत गोयनका मर्जर के बाद बनने वाली कंपनी के मैनेजिंग डायरेक्टर (MD) और CEO बने रहेंगे. मर्जर के बाद ज़ी एंटरटेनमेंट के पास 47.07 फीसदी हिस्सेदारी रहेगी. सोनी पिक्चर्स के पास 52.93 फीसदी हिस्सेदारी होगी. मर्जर कंपनी को भी शेयर बाजार में लिस्ट कराया जाएगा.

बोर्ड डायरेक्टर को नॉमिनेट करेगा सोनी ग्रुप

दोनों कंपनी के टीवी कारोबार, डिजिटल एसेट्स, प्रोडक्शन ऑपरेशंस और प्रोग्राम लाइब्रेरी को भी मर्ज किया जाएगा. ZEEL और SPNI के बीच एक्सक्लूसिव नॉन-बाइंडिंग टर्म शीट का करार हुआ है. डील का ड्यू डिलिजेंस अगले 90 दिनों में पूरा होगा. मौजूदा प्रोमोटर फैमिली Zee के पास अपनी शेयरहोल्डिंग को 4 फीसदी से बढ़ाकर 20 फीसदी करने का विकल्प होगा. बोर्ड में ज्यादातर डायरेक्टर को नॉमिनेट करने का अधिकार सोनी ग्रुप के पास होगा.

बोर्ड ने कंपनी के वित्तीय मामलों के अलावा भविष्य में होने वाले विस्तार योजना पर भी बात की है. बोर्ड ने कहा है कि मर्जर से शेयरहोल्डर और हिस्सेदारों के हितों का कोई नुकसान नहीं होगा. 

मर्जर की बड़ी बातें

-ज़ी एंटरटेनमेंट-सोनी पिक्चर्स नेटवर्क्स इंडिया के बीच विलय का एलान
- ज़ी एंटरटेनमेंट के बोर्ड ने विलय के लिए सैद्धांतिक मंजूरी दी
- विलय के बाद भी पुनीत गोयनका MD&CEO बने रहेंगे
- सोनी पिक्चर्स एंटरटेनमेंट विलय के बाद $157.5 Cr  निवेश करेगी
- निवेश की रकम का इस्तेमाल ग्रोथ के लिए किया जाएगा
- विलय के बाद सोनी एंटरटेनमेंट मेजॉरिटी शेयरहोल्डर होगी
- दोनों पक्षों के बीच नॉन बाइंडिंग टर्मशीट साइन किया गया
- 90 दिनों के भीतर दोनों पक्ष ड्यू डिलिजेंस का काम करेंगे
- विलय के बाद भी कंपनी भारतीय शेयर बाजार में लिस्टेड होगी
- दोनों पक्षों के बीच में नॉन कंपीट एग्रीमेंट भी साइन होगा

विलय और नए निवेश के बाद कैसे बदलेगी हिस्सेदारी

- मौजूदा स्थिति में ZEEL के शेयरहोल्डर्स का हिस्सा 61.25% होगा
- $157.5 Cr निवेश के बाद हिस्सेदारी में बदलाव आएगा.
- निवेश के बाद ZEEL के निवेशकों का हिस्सा करीब 47.07% होगा
- सोनी पिक्चर्स के शेयरहोल्डर्स का हिस्सा 52.93% रहने का अनुमान

कितनी बड़ी ZEEL-सोनी की डील?

ZEEL को मिलेगा ग्रोथ कैपिटल.
एक दूसरे के कंटेंट, डिजिटल प्लेटफॉर्म का एक्सेस.
सोनी को भारत में उपस्थिति बढ़ाने का मौका मिलेगा.
सोनी को 130 करोड़ लोगों की व्यूअरशिप मिलेगी.

ZEEL का कारोबार

- 190 देशों में पहुंच, 10 भाषा, 100 से ज्यादा चैनल.
- दर्शकों में 19% का मार्केट शेयर.
- 2.6 लाख घंटों से ज्यादा का TV कंटेंट.
- 4800 से ज्यादा फिल्मों के टाइटल.
- डिजिटल स्पेस में ZEE5 के जरिये बड़ी पकड़.
- देश में 25% फिल्में ZEE नेटवर्क पर देखी जाती हैं.

सोनी का कारोबार

- भारत में 31 चैनल, 167 देशों में पहुंच.
- सोनी के पास देश में 70 करोड़ दर्शक.
- दर्शकों में 9% का मार्केट शेयर.

Disclaimer: ज़ी एंटरटेनमेंट हमारी Sister Concern/Group Company नहीं है... हमारे नाम एक जैसे दिखते हैं लेकिन हमारा स्वामित्व और प्रबंधन अलग ग्रुप की कंपनी ज़ी मीडिया के हाथों में है.

लाइव टीवी

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.