UPSC Success Story: शानदार पैकेज वाली नौकरी छोड़ी, दो बार टूटा UPSC का सपना, फिर ऐसे लगे कंधे पर IPS के सितारे
topStories1hindi1410943

UPSC Success Story: शानदार पैकेज वाली नौकरी छोड़ी, दो बार टूटा UPSC का सपना, फिर ऐसे लगे कंधे पर IPS के सितारे

IAS success story in Hindi: UPSC की तैयारी करने वाले हर उम्‍मीदवार का सपना होता है कि उसे IAS-IPS की रैंक मिले, लेकिन ये सपना हर किसी का पूरा नहीं होता. जानिए इन्‍होंने IPS तक का सफर कैसे पूरा किया?     

UPSC Success Story: शानदार पैकेज वाली नौकरी छोड़ी, दो बार टूटा UPSC का सपना, फिर ऐसे लगे कंधे पर IPS के सितारे

IPS Abhishek: कई लोगों को मानना होता है कि जब किसी को अच्‍छी प्राइवेट नौकरी नहीं मिलती है तो वह सरकारी नौकरी के लिए तैयारी शुरू कर देते हैं, लेकिन ऐसे भी कई उदाहरण देखने को मिलते हैं जिसमें आजकल लोग मल्टीनेशनल कंपनी में अच्‍छे पदों से इस्‍तीफा देकर UPSC की तैयार करने के लिए दिल्‍ली आ जाते हैं या सेल्‍फ स्‍टडी करते हैं. ऐसी ही कहानी है आईपीएस अभिषेक की, जिन्‍होंने प्राइवेट कंपनी की शानदार नौकरी को छोड़ दिया और यूपीएससी की तैयारी करने दिल्‍ली चले गए. नौकरी छोड़ कर पढ़ाई करना वो भी UPSC की, कोई सट्टे से कम नहीं होता. उनके साथ भी ऐसा ही हुआ, पहली बार में उन्‍हें निराशा ही हाथ लगी. फिर रेलवे अधिकारी से आईपीएस बने.     

थर्ड अटेम्‍प्‍ट में बने आईपीएस

आपको बता दें कि अभिषेक ने नौकरी छोड़ने से पहले अपने पिता से राय मांगी. उनके पिता ने उनसे कहा कि वे हर फैसले में उनके साथ हैं. इसके बाद अभिषेक देश की राजधानी दिल्‍ली की तरफ चल दिए. यहां वे सिविल सर्विस की पढ़ाई के लिए आए थे. साल 2012 में उन्होंने पहला अटेंप्ट दिया था, जिसमें उन्‍हें सफलता नहीं मिली. इसके बाद उन्‍होंने बिना समय गवाएं अगले साल की परीक्षा के लिए तैयारी शुरू कर दी. इस बार यानी साल 2013 में उन्‍हें सफलता हाथ लग ही गई. उनका चयन इंडियन रेलवे सर्विस (Indian Railway Service) के लिए हो गया, लेकिन उन्होंने अगली बार फिर प्रयास किया और साल 2014 में उन्‍हें कामयाबी मिल गई. अभिषेक का चयन इस बार पुलिस सर्विस के लिए हुआ. 

बिहार से मल्टीनेशनल कंपनी तक का सफर  

आईपीएस अधिकारी अभिषेक बिहार से हैं. उन्‍होंने 10वीं तक की पढ़ाई कटिहार से की. उसके बाद आगे की पढ़ाई के लिए पटना चले गए. यहां से उन्‍होंने 12वीं पास की और  इंजीनियरिंग की पढ़ाई की. कॉलेज की पढ़ाई पूरी होने के बाद उनका चयन मल्टीनेशनल कंपनी (MNC) में हो गया था. यहां उन्‍हें शानदार पैकेज मिला था.

वेस्‍टर्न कल्‍चर नहीं भाया 

मल्टीनेशनल कंपनी (MNC) में काम करने के लिए अभिषेक हैदराबाद चले गए. यहां पर काम करने की वजह से उनका पूरा रूटीन ही बदल गया. यहां पर उन्हें पश्चिमी देशों के टाइम जोन के आधार पर काम करना होता था. जिस वजह से उन्‍हें लगने लगा कि इससे उनकी सेहत खराब हो सकती है और उन्होंने नौकरी छोड़ने का फैसला ले लिया. उसके बाद उनकी जिदंगी ही बदल गई. उन्‍हें पढ़ाई के लिए दिल्‍ली आना पड़ा. यहां से उन्‍होंने UPSC की तैयारी शुरू कर दी. आपको बता दें कि अभिषेक अपने हेल्‍थ को लेकर भी काफी सचेत रहते हैं, उन्हें सुबह जल्दी उठना और जिम जाना पसंद है. नौकरी छोड़ने के पीछे एक वजह ये भी थी.  

ये ख़बर आपने पढ़ी देश की नंबर 1 हिंदी वेबसाइट Zeenews.com/Hindi  पर 

Trending news