close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

5 खिलाड़ी, जिन्होंने World Cup 2019 में रिकॉर्ड तो बनाए, पर इन्हें याद कर शायद ही मुस्कुरा पाएं

आईसीसी विश्व कप 2019 के बेस्ट बैट्समैन, बेस्ट बॉलर की टीमें फाइनल तक नहीं खेल पाईं. बेस्ट ऑलराउंडर की टीम तो सेमीफाइनल में भी नहीं पहुंची.

5 खिलाड़ी, जिन्होंने World Cup 2019 में रिकॉर्ड तो बनाए, पर इन्हें याद कर शायद ही मुस्कुरा पाएं
रोहित शर्मा, मिचेल स्टार्क और शाकिब अल हसन. (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: आईसीसी क्रिकेट विश्व कप (ICC World Cup 2019) अब अपने अंतिम मुकाम पर पहुंच गया है. मेजबान इंग्लैंड और न्यूजीलैंड की टीमें फाइनल खेल रही हैं. बाकी टीमें या तो स्वदेश लौट चुकी हैं या लौटने की तैयारी में हैं. यह तय है कि विश्व चैंपियन इंग्लैंड या न्यूजीलैंड ही बनेगा. उसी के खिलाड़ी विश्व चैंपियन के तौर पर याद रखे जाएंगे. और इंग्लैंड और न्यूजीलैंड के इस प्रदर्शन के तले रोहित शर्मा (Rohit Sharma), मिचेल स्टार्क, शाकिब अल हसन (Shakib Al Hasan) के प्रदर्शन दबकर रह जाएंगे, जिन्होंने बनाए तो विश्व रिकॉर्ड हैं, लेकिन वे इन्हें यादकर शायद ही मुस्कुरा पाएं. ऐसे 5 खिलाड़ियों के रिकॉर्ड प्रदर्शन पर एक नजर: 

रोहित शर्मा के 5 शतक 
अगर कोई खिलाड़ी विश्व कप में सबसे अधिक रन  बनाए. सबसे अधिक शतक भी लगाए. फिर भी उसकी टीम फाइनल में भी ना पहुंचे, तो क्या वह अपनी इस उपलब्धि पर मुस्कुरा पाएगा? भारतीय उप कप्तान रोहित शर्मा की स्थिति यही है. उन्होंने टूर्नामेंट में सबसे अधिक 648 रन बनाए. उन्होंने पांच शतक लगाए. वे एक विश्व कप में इतने शतक लगाने वाले पहले खिलाड़ी हैं. लेकिन वे सेमीफाइनल में सिर्फ एक रन बना पाए और भारत 240 रन का लक्ष्य भी हासिल नहीं कर सका. 
 

Rohit Sharma,
रोहित शर्मा ने विश्व कप में 5 शतक लगाए. (फोटो: ANI) 

मिचेल स्टार्क के 27 विकेट
ऑस्ट्रेलिया के तेज गेंदबाज मिचेल स्टार्क (Mitchell Starc) की स्थिति भी रोहित जैसी ही है. उन्होंने इस विश्व कप में सबसे अधिक 27 विकेट झटके हैं. यह विश्व कप के इतिहास में किसी एक टूर्नामेंट में किसी गेंदबाज द्वारा लिए गए सबसे अधिक विकेट हैं. फिर भी ऑस्ट्रेलिया सेमीफाइनल की बाधा भी पार नहीं कर सका. वह हारा भी तो अपने सबसे बड़े प्रतिद्वंद्वी इंग्लैंड से. जाहिर है, स्टार्क को 27 विकेट लेने के बाद भी फाइनल ना खेल पाने की कसक तो रहेगी ही.

शाकिब अल हसन बेस्ट ऑलराउंडर
बांग्लादेश के शाकिब अल हसन का प्रदर्शन किसी भी ऑलराउंडर के लिए ईर्ष्या का सबब हो सकता है. दुनिया के इस नंबर-1 ऑलराउंडर ने 8 मैच में 86.57 की औसत से 606 रन बनाए. इंग्लैंड और वेस्टइंडीज के खिलाफ शतक भी लगाए. इतना ही नहीं, उन्होंने 11 विकेट भी झटके. एक मैच में तो उन्होंने अर्धशतक भी लगाया और पांच विकेट भी लिए. वे इतिहास के ऐसे पहले ऑलराउंडर हैं, जिन्होंने किसी विश्व कप में 500 से अधिक रन बनाए और 10 से अधिक विकेट भी लिए. इस सबके बावजूद बांग्लादेश की टीम सेमीफाइनल में भी प्रवेश नहीं कर सकी. 

मो. शमी का बेस्ट स्ट्राइक रेट और औसत 
रिकॉर्ड प्रदर्शन करने वाले इन खिलाड़ियों की लिस्ट में मोहम्मद शमी (Mohammed Shami) का नाम देखकर आप शायद चौंक रहे हों. इसलिए बता दें कि मोहम्मद शमी इस विश्व कप में सबसे कम और सबसे कम स्ट्राइक रेट से विकेट (5 से अधिक) लेने वाले गेंदबाज रहे. उनका स्ट्राइक रेट 15 रहा, यानी उन्होंने हर 15वीं गेंद पर विकेट झटके. इसी तरह उनका औसत 13.78 रहा, जिस पर कोई भी गेंदबाज गर्व कर सकता है. शमी ने चार मैच खेले और 14 विकेट लिए. वे टूर्नामेंट के एकमात्र गेंदबाज रहे, जिसने सिर्फ चार मैच खेलकर ही 10 या इससे अधिक विकेट लिए. लेकिन...
 

Mohammed Shami
मोहम्मद शमी ने विश्व कप में 14 विकेट लिए. (फोटो: PTI)

 

कॉर्लोस ब्रैथवेट का तूफानी शतक 
इंग्लैंड और वेल्स में खेले गए इस विश्व कप में 20 खिलाड़ियों ने शतक लगाए. लेकिन इनमें से वेस्टइंडीज के कॉर्लोस ब्रैथवेट (Carlos Brathwaite) का शतक ऐसा रहा, जिसे भुलाना आसान नहीं होगा. न्यूजीलैंड ने इस मैच में वेस्टइंडीज को 292 रन का लक्ष्य दिया था. विंडीज ने एक समय 164 रन पर सात विकेट गंवा दिए थे. लेकिन ब्रैथवेट (101 रन, 82 गेंद) ने हार नहीं मानी. वे टीम को जीत के करीब ले गए. विंडीज का स्कोर 48.5 ओवर के बाद 9 विकेट पर 286 रन था. उसे आखिरी 7 गेंद पर 6 रन बनाने थे. तभी ब्रैथवेट ने जेम्स नीशाम की गेंद पर लॉन्गऑन पर बड़ा शॉट खेला, जिसे ट्रेंट बोल्ट ने बाउंड्री लाइन के महज डेढ़-दो फुट भीतर कैच कर लिया. इस तरह ब्रैथवेट का पहला वनडे शतक बेकार चला गया.