close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

फील्‍ड से लेकर हर सुविधा AFG को मिली, लेकिन उसकी वह मांग जिसे BCCI ने खारिज किया

भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) ने अफगानिस्तान क्रिकेट बोर्ड (एसीबी) के भारत में टी20 लीग करने के निवेदन को अस्वीकार कर दिया.

फील्‍ड से लेकर हर सुविधा AFG को मिली, लेकिन उसकी वह मांग जिसे BCCI ने खारिज किया

नई दिल्‍ली: भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) ने अफगानिस्तान क्रिकेट बोर्ड (एसीबी) के भारत में टी20 लीग करने के निवेदन को अस्वीकार कर दिया. बीसीसीआई ने अफगानिस्तान क्रिकेट को बढ़ावा देने में अहम योगदान दिया है और ऐसा कम ही होता है जब एसीबी के किसी निवेदन को अस्वीकार कर दिया जाए.

बीसीसीआई के एक अधिकारी ने मंगलवार को कहा, ‘‘एसीबी ने हम से भारत में लीग कराने का आग्रह किया था लेकिन हमारी अपनी लीग (आईपीएल) है, ऐसे में उनका निवेदन स्वीकार करना सही नहीं होगा.’’ एसीबी अधिकारियों ने मुंबई में 16 मई को बीसीसीआई सीईओ राहुल जौहरी और महाप्रबंधक (क्रिकेट संचालन) सबा करीम से मुलाकात के दौरान यह मुद्दा उठाया था.

World Cup 2019: फफक-फफक कर रोया यह खिलाड़ी, कहा- फिट होने के बाद भी टीम से बाहर कर दिया

एसीबी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी असदुल्ला खान ने देहरादून और ग्रेटर नोएडा के बाद भारत में तीसरे घरेलू मैदान की मांग की जिस पर बीसीसीआई को कोई आपत्ति नहीं है. ऐसे में भारत में लखनऊ टीम का तीसरा घरेलू मैदान हो सकता है. खान ने कहा, ‘‘देहरादून में पांच सितारा होटल नहीं है, ऐसे में टीमों की मेजबानी करना एक समस्या है. हम चाहेंगे कि लखनऊ में हमें मैदान मिले.’’

अफगानिस्तान टीम के खिलाड़ियों के साथ रेस्टोरेंट में झड़प, बुलानी पड़ी पुलिस

अफगान प्रीमियर लीग
अफगान प्रीमियर लीग के पहले सत्र का आयोजन शारजाह में पांच से 21 अक्टूबर 2018 तक किया गया था. इसमें पांच टीमों ने भाग लिया था जिसमें मोहम्मद नबी की कप्तानी वाली बाल्ख लीजेंड ने खिताब जीता था. इस टूर्नामेंट में क्रिस गेल, ब्रेंडन मैकुलम, बेन कटिंग, शाहिद अफरीदी, कोलिन इनग्राम और कोलिन मुनरो जैसे विदेशी खिलाड़ियों ने भाग लिया था.

इसके साथ ही बीसीसीआई ने रणजी की 10 बड़ी टीम के साथ सहयोगी सदस्यों के तौर पर अफगानिस्तान के कोचों को जोड़ने के एसीबी के अनुरोध को मान लिया. खान ने कहा, ‘‘ हमारे कोचों के लिए यह सीखने का शानदार मौका होगा.’’

(इनपुट: एजेंसी भाषा)