close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

कोहली से छिनेगी वनडे की कप्तानी, इस खिलाड़ी को सौंपी जाएगी टीम की कमान!

विश्व कप के बाद सबसे बड़ा मुद्दा कोहली और रोहित के बीच आई दरार से जुड़ी अफवाहों का है.

कोहली से छिनेगी वनडे की कप्तानी, इस खिलाड़ी को सौंपी जाएगी टीम की कमान!
भारतीय क्रिकट कंट्रोल बोर्ड दोनों में कप्तानी के विभाजन पर भी चर्चा कर सकता है. (फाइल फोटो)

लंदन: भारतीय क्रिकेट टीम के विश्व कप-2019  (World Cup 2019) के सेमीफाइनल में हारकर बाहर होने के बाद से इस बात पर काफी चर्चा हो रही है कि क्या टीम कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) और रोहित शर्मा (Rohit Sharma) पर अत्यधिक निर्भर हैं. टूर्नामेंट में टीम का स्कोरकार्ड इस बात की पुष्टि करता है और भारतीय क्रिकट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) इसके साथ ही दोनों में कप्तानी के विभाजन पर भी चर्चा कर सकता है.

न्यूज एजेंसी आईएएनएस से बात करते हुए बोर्ड के एक अधिकारी ने कहा कि आगामी सीरीज से पहले बोर्ड इस पर चर्चा करेगा कि क्या रोहित को वनडे टीम का कप्तान बनाया जाए और कोहली टेस्ट टीम की कप्तानी जारी रखें.

मौजूदा कप्तान को अपार समर्थन
अधिकारी ने कहा, "रोहित के लिए 50 ओवर के फॉर्मेट में कप्तानी की बागडोर संभालने का यह सही समय होगा. वर्तमान कप्तान और मैनेजमेंट को अपार समर्थन प्राप्त है, अगले विश्व कप के लिए योजना बनाने का यह सही समय है और इसके लिए मौजूदा विचारों एवं योजनाओं को नए सिरे से देखने की जरूरत है. हम सभी जानते हैं कि कुछ क्षेत्रों को एक नए दृष्टिकोण से देखने की आवश्यकता है. रोहित कप्तानी के लिए सही विकल्प होंगे."

दरार से जुड़ी अफवाह
हालांकि, अधिकारी के अनुसार, विश्व कप के बाद सबसे बड़ा मुद्दा कोहली और रोहित के बीच आई दरार से जुड़ी अफवाहों का है. प्रशासकों की समिति (सीओए) की मौजूदगी में कोच रवि शास्त्री, कोहली और मुख्य चयनकर्ता एम.एस.के प्रसाद के बीच होने वाली बैठक में इन सभी मुद्दों पर चर्चा की जाएगी.

तह तक जाना जरूरी
अधिकारी ने कहा, "आप जानते हैं कि विनोद राय (सीओए प्रमुख) पहले ही उल्लेख कर चुके हैं कि एक बैठक होगी जिसमें टीम के प्रदर्शन की समीक्षा की जाएगी. समीक्षा के दौरान इन अफवाहों की तह तक जाना जरूरी है." जबकि राय ने दावा किया है कि बैठक के दौरान टीम के प्रदर्शन होगी की समीक्षा होगी, कई अन्य मुद्दे भी हैं जिन पर तत्काल ध्यान देने की आवश्यकता है.