close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

'चाइनामैन' कुलदीप के पक्ष में नहीं थे क्रिकेट के दिग्गज, लेकिन Pak की कमर तोड़ने में सफल हुआ यह बॉलर

आपको बता दें कि मैच शुरू होने से पहले बहुत से क्रिकेट के जानकार मैनचेस्टर में पाकिस्तान के खिलाफ कुलदीप यादव को टीम में खिलाने के खिलाफ थे.

'चाइनामैन' कुलदीप के पक्ष में नहीं थे क्रिकेट के दिग्गज, लेकिन Pak की कमर तोड़ने में सफल हुआ यह बॉलर
सभी लोगों का ऐसा मानना था कि भारत को तीन पेसर और एक स्पिनर के साथ मैदान में जाना चाहिए था. (फाइल फोटो)

नई दिल्लीः आईसीसी वर्ल्ड कप के सबसे बड़े मुकाबले में भारत ने अपने सबसे चिर-प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान को करारी शिकस्त दी. भारत ने रविवार को खेले गए मैच में पाकिस्तान को 89 रनों के बड़े अंतर से हराया. भारत की इस जीत में गेंदबाज कुलदीप यादव ने भी अहम रोल निभाया. जब एक समय ऐसा लग रहा था कि पाकिस्तान भारत को कुछ टक्कर दे सकता है तभी भारतीय स्पिनर कुलदीप यादव ने बाबर आजम का विकेट लेकर भारत को ब्रेक थ्रू दिलाया और इसके बाद पाकिस्तान की पूरी टीम लड़खड़ा गई. कुलदीप ने अपने स्पेल में पाकिस्तान के सेट बल्लेबाजों को आउट कर के भारत की जीत सुनिश्चित किया.

भारत से हार पर पाकिस्तान के कप्तान ने पूरी टीम पर उतारा गुस्सा, कहा- 'हम पूरी तरह फेल रहे'

आपको बता दें कि मैच शुरू होने से पहले बहुत से क्रिकेट के जानकार मैनचेस्टर में पाकिस्तान के खिलाफ कुलदीप यादव को टीम में खिलाने के खिलाफ थे, उनका मानना था कि इस टीम में एक मीडियम पेसर होना चाहिए था. बहुत के पूर्व क्रिकेटर्स का मानना था कि पिच और मौसम को देखते हुए भारतीय तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी को टीम में जगह देनी चाहिए और वे कुलदीप से ज्यादा बेहतर विकल्प हो सकते हैं भारत के लिए. सभी लोगों का ऐसा मानना था कि भारत को तीन पेसर और एक स्पिनर के साथ मैदान में जाना चाहिए था. कुलदीप ने इन सभी बातों को गलत साबित करते हुए अपने चयन को सही बताया और भारत की जीत में अहम योगदान दिया.

INDvsPAK: रणवीर ने कोहली को मैदान में जाकर लगाया गले, पाकिस्तान पर फतह की दी बधाई

मैच में भारत ने ठोस बल्लेबाजी करते हुए पाकिस्तान के सामने 336 रन का विशाल लक्ष्य रखा था. लक्ष्य का पीछा करने उतरी पाकिस्तान की टीम की शुरुआत अच्छी नहीं रही और ओपनर बल्लेबाज इमामुल हक केवल 7 रन बना कर आउट हो गए. इसके बाद क्रीज पर आए बाबर आजम ने फखर जमान का अच्छा साथ दिया और दोनों ने मिलकर पाकिस्तान के लिए शतकीय साझेदारी भी की. फखर जमान और बाबर के बीच साझेदारी को देखकर सभी को लग रहा था कि कहीं भारत को परेशानी न हो जाए लेकिन तभी विराट कोहली ने कुलदीप को गेंदबादी दी और उन्होंने दोनों ही बल्लेबाजों को पवेलियन का रास्ता दिखाकर अपने चयन को सही साबित कर दिया.