close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

World Cup 2019: टीम इंडिया में इन गेंदबाजों का अहम रहेगा रोल, भुवी ने बताई और भी बातें

वर्ल्ड कप-2019 में जाने से पहले ही भारतीय तेज गेंदबाजी आक्रमण को लेकर काफी चर्चा होती आ रही है.

World Cup 2019: टीम इंडिया में इन गेंदबाजों का अहम रहेगा रोल, भुवी ने बताई और भी बातें
भुवनेश्वर ने कहा कि वह जानते हैं कि तेज गेंदबाजी आक्रमण से क्या उम्मीदें हैं. (फाइल फोटो)

कार्डिफ: आईसीसी विश्व कप-2019 (World Cup 2019) में जाने से पहले ही भारतीय तेज गेंदबाजी आक्रमण को लेकर काफी चर्चा होती आ रही है, लेकिन इसी आक्रमण का अहम हिस्सा भुवनेश्वर कुमार (Bhuvneshwar Kumar) इसे लेकर दबाव महसूस नहीं कर रहे हैं. भुवनेश्वर ने कहा कि वह जानते हैं कि तेज गेंदबाजी आक्रमण से क्या उम्मीदें हैं. भुवनेश्वर ने कहा कि मोहम्मद शमी, जसप्रीत बुमराह और वो खुद उनसे लगाई गई उम्मीदों से भलीभांति वाकिफ हैं और इसलिए अपनी ताकत के हिसाब से खेलने पर पूरा ध्यान देंगे.

भुवनेश्वर ने कहा, "हम सभी जानते हैं कि इंग्लैंड की स्थितियां तेज गेंदबाजों के लिए मददगार होती हैं. इसलिए हमारा रोल अहम होगा. हम तीनों जानते हैं कि हमारी मजबूती क्या है और हमें ऐसा क्या करना है जिससे भारतीय टीम को मदद मिले."

उन्होंने कहा, "हम तीनों एक दूसरे का अनुभव बांटते रहते हैं जिससे हमें मदद मिलती है. अगर गेंद स्विंग होती है तो इससे सभी को मदद मिलेगी, लेकिन हमें देखना होगा कि स्थितियां कैसी होती हैं. अगर यह स्थितियां हमारे पक्ष में होती हैं तो यह गेंदबाजों के लिए अच्छी बात होगी."

हां, दबाव होगा
भुवनेश्वर ने कहा कि न्यूजीलैंड और बांग्लादेश के साथ खेले गए दो अभ्यास मैचों से गेंदबाजों को पता चला है कि इंग्लैंड में उनका काम कैसा और किस तरह का रहेगा. उन्होंने कहा, "विश्व कप बड़ा प्लेटफॉर्म है. हां, दबाव होगा, लेकिन मैं उत्साहित हूं और आत्मविश्वास से भरा भी क्योंकि मैंने यहां पहले भी टूर किया है. मैं इंग्लैंड की स्थितियों से वाकिफ हूं. इन दो अभ्यास मैचों से मुझे पता चला है कि मुझे इस टूर्नामेंट में क्या करना है और यहां की स्थितियां कैसी होंगी."

बल्लेबाजी में काफी उम्मीदें
भुवनेश्वर ने कहा कि बल्ले से योगदान भी काफी अहम होगा और इसलिए उन्हें टीम हित को लेकर अपने आप से बल्लेबाजी में काफी उम्मीदें हैं.  उन्होंने कहा, "जब बल्लेबाजी की बात आती है तो मुझे खुद से काफी उम्मीदें हैं. मैं कुछ अहम मैचों में खेला हूं जिससे मुझे आत्मविश्वास मिला है. मैं बल्लेबाजी में अपनी काबिलियत के बारे में जानता हूं. मैं नेट्स में बल्लेबाजी कर रहा हूं ताकि टीम को मेरी जरूरत पड़े तो मैं अपना योगदान दे सकूं."

दक्षिण अफ्रीका से पहला मैच
भारत को अपना पहला मैच दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 5 जून को साउथम्पटन में खेलना है. भुवनेश्वर का कहना है कि टीम समय के साथ इस मैच की तैयारी करेगी.

मैच को लेकर क्या रणनीति
भुवनेश्वर ने कहा, "आप हमेशा विश्व कप में जीत के साथ शुरुआत करना चाहते हैं, लेकिन अभी मैं यह नहीं कह सकता कि हमारी पहले मैच को लेकर क्या रणनीति है. अभी हमारे पास एक सप्ताह है. जब हम अभ्यास करेंगे और बैठक करेंगे तब हम फैसला लेंगे कि हमें क्या करने की जरूरत है."

(इनपुट-आईएएनएस)