close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

IND v AFG: विराट कोहली ने अंपायर के सामने 'जोड़े हाथ', ट्विटर पर यूं उड़ा मजाक

टीम इंडिया ने रीव्यू गंवाया तो कोहली को यह सहन नहीं हुआ और वह अंपायर से बहस करने पहुंच गए.

IND v AFG: विराट कोहली ने अंपायर के सामने 'जोड़े हाथ', ट्विटर पर यूं उड़ा मजाक
विराट कोहली का कुछ इस तरह मजाक उड़ाया जा रहा है.

नई दिल्ली: आईसीसी वर्ल्ड कप 2019 (ICC World Cup 2019) में शनिवार को भारत और अफगानिस्तान के बीच खेला गया मुकाबला काफी मनोरंजक था. इस मैच के दौरान भारतीय कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) अपने हावभाव और कथित इशारों की वजह से मजाक का विषय बन गए. अब सोशल मीडिया पर यूजर्स कोहली की एक वायरल फोटो के मीम्स बनाकर उन्हें ट्रोल कर रहे हैं.

दरअसल, अफगानिस्तानी टीम के बल्लेबाज भारत की ओर से दिए गए 225 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरे थे. इस दौरान टूर्नामेंट में अपना पहला मैच खेल रहे गेंदबाज मोहम्मद शमी ने उनके सलामी बल्लेबाज हजरतुल्लाह ज़ाज़ी को आउट करने की कोशिश की. हालांकि, अंपायर ने एलबीडब्ल्यू अपील का जवाब नहीं दिया. कोहली ने तब डीआरएस रिव्यू के लिए कहा, लेकिन यह अफगानिस्तान के पक्ष में गया; क्योंकि गेंद लेग स्टंप लाइन के बाहर पिच हुई थी. जबकि पिच मैप में गेंद 50-50 प्रतिशत अंदर-बाहर नजर आ रही थी.

इसके बाद कोहली अंपायर को दोनों हाथों से शेप बनाकर समझाने लगे कि गेंद लेग स्टंप लाइन के अंदर पिच हुई है, लेकिन दर्शकों को लगा कि टीम इंडिया के कप्तान हाथ जोड़कर गिड़गिड़ा रहे हैं. ऐसा इसलिए क्योंकि उससे पहले कप्तान को अंपायर के साथ बहस करते हुए भी देखा गया था. अब उनके हावभाव की यह तस्वीर वायरल हो गई है और सबका ध्यान अपनी ओर खींच रही है. फैंस मजाकिया अंदाज में मीम्स बना रहे हैं तो कई यूजर्स उस पर मजेदार कमेंट कर रहे हैं. आप भी देखिए....

कोहली पर लगा जुर्माना
अफगानिस्तान के खिलाफ फील्डिंग के दौरान जब टीम इंडिया ने रीव्यू गंवाया. कोहली को यह सहन नहीं हुआ और वे अंपायर के पास पहुंच कर बहस करने लगे. उसके बाद विराट को इसी मैच में अति आक्रामक अपील करने का दोषी पाया गया जिस पर आईसीसी ने उन्हें सजा सुनाई है.

क्या सजा दी आईसीसी ने
आईसीसी ने भारत और अफगानिस्तान के बीच हुए मैच में आईसीसी कोड ऑफ कंडक्ट का लेवल वन तोड़ने का दोषी पाया है. आईसीसी विज्ञप्ति के अनुसार, ‘‘कोहली को खिलाड़ियों और सहयोगी स्टाफ की आईसीसी की आचार संहिता की धारा 2.1 के उल्लघंन का दोषी पाया गया जो एक अंतरराष्ट्रीय मैच के दौरान अत्यधिक अपील से संबंधित है.’’ यह आईसीसी आचार संहिता के लेवल एक का उल्लघंन है जिसमें न्यूनतम सजा अधिकारी की फटकार होती है जबकि अधिकतम सजा खिलाड़ी की मैच फीस से 50 प्रतिशत कटौती, एक या दो डिमैरिट अंक होते हैं.