IND vs WI: जमैका टेस्ट की आखिरी पारी में चमके रवींद्र जडेजा, कप्तान विराट से मिली तारीफ

टीम इंडिया ने वेस्टइंडीज को जमैका टेस्ट के चौथे दिन रवींद्र जडेजा ने शानदार गेंदबाजी कर एक बार फिर अपनी टीम में मजबूत स्थिति दर्ज कराई. 

IND vs WI: जमैका टेस्ट की आखिरी पारी में चमके रवींद्र जडेजा, कप्तान विराट से मिली तारीफ
रवींद्र जडेजा ने टीम इंडिया को अहम मौके पर विकेट दिलाए. (फोटो : IANS)

किंग्सटन (जमैका): टीम इंडिया के लिए वेस्टइंडीज दौरे (India vs West Indies) में सोमवार का दिन बहुत अहम था. टीम इतिहास रचने की ओर जा रही थी. वेस्टइंडीज को विराट कोहली ने 468 रन का लक्ष्य दिया था और मेजबान टीम 45 के स्कोर पर ही दो विकेट तीसरे दिन का खेल खत्म होने तक गंवा चुकी थी. विकेट से तेज गेंदबाजों की मदद दूर होती जा रही थी. पहली पारी में मैच के दूसरे दिन छह विकेट लेने वाले जसप्रीत बुमराह उसके बाद कमाल 

अश्विन की जगह चुने गए थे जडेजा
जडेजा को सीरीज शुरू होने पर एंटिगा टेस्ट में जब चुना गया तो उनके चयन पर सवाल भी उठे. आखिर क्यों जडेजा को रविचंद्रन अश्विन की जगह टीम में तरजीह दी गई. अगर जडेजा ऑलराउंडर हैं तो अश्विन भी जडेजा से कम बल्लेबाज नहीं है कम से कम टेस्ट में तो नहीं. वहीं गेंदबाजी में वे निर्विवाद रूप से जडेजा से बेहतर स्पिनर हैं. लेकिन टीम ने फिर भी जडेजा को चुना. एंटिगा टेस्ट में जडेजा ने पहली पारी में 58 रनों की उपयोगी पारी खेली जब टीम संकट में थी. इसके अलावा पहली पारी में वे दो विकेट भी लेने में कामयाब रहे थे. 

यह भी पढ़ें: IND vs WI: विराट ने बुमराह की तारीफ में पढ़े कसीदे, कहा- ‘लोगों को गलत साबित किया’

अहम विकेट लेकर तय की टीम इंडिया की जीत
जडेज के चयन पर टीम इंडिया के कोच रवि शास्त्री ने भी सफाई देते हुए कहा था कि उनका पिछला प्रदर्शन ही उन्हें टीम में जगह दिला सका. इसके बाद जडेजा ने जमैका ने दूसरी पारी में रोस्टन चेस, और जेर्मेन हैमिल्टन को आउट करने के बाद आखिरी में जेसन होल्डर का अहम विकेट लेकर वेस्टइंडीज की पारी खत्म कर टीम इंडिया की जीत सुनिश्चित की. जडेजा ने इस पारी में 19.5 ओवरों में चार मेडन ओवर फेंके और 58 रन देकर तीन विकेट लिए. 

यह भी पढ़ें: IND vs WI: टेस्ट सीरीज जीतने के बाद विराट कोहली ने कहा, ‘इस सीरीज की खोज हैं विहारी’

विराट ने भी की जडेजा की तारीफ
विराट ने टीम के ऑलराउंडर रवींद्र जडेजा की भी तारीफ की. इस मैच में जडेजा ने गेंद और बल्ले दोनों से बढ़िया प्रदर्शन किया और सीरीज में कीमती 75 रन बनाकर अहम मौके पर 5 विकेट भी लिए. विराट ने मैच के बाद कहा, “जडेजा विदेशों में टीम इंडिया के सबसे निरंतर और सटीक गेंदबाज रहे हैं. वे नियंत्रण और स्थायित्व देते हैं. वे हमेशा खेल में बने रहते है और आपको फील्डिंग में भी ताकत देते हैं. आप देख सकते हैं कि वे हमेशा टीम के लिए कुछ न कुछ करना चाहते हैं.” 

अब निगाहें दक्षिण अफ्रीका सीरीज पर
अब टीम इंडिया अपने ही घर में आगामी 15 सितंबर से दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ तीन टी20 और फिर उसके बाद तीन टेस्ट मैचों की सीरीज खेलेगी. इस सीरीज के बारे में विराट ने कहा, “हम दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ आगामी टेस्ट सीरीज के लिए उत्साहित हैं. हमें दबाव में रखा जाएगा और मैं जानता हूं कि यह आसान नहीं है. हमें टेस्ट क्रिकेट खेलना अच्छा लगता है, हमे एक टीम के तौर पर बेहतर होना चाहते हैं.” इस सीरीज में जीत के साथ ही टीम इंडिया आईसीसी वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप में 120 अंकों के साथ शीर्ष पर आ गई है. यह भारत की वेस्टइंडीज पर लगातार 8वीं सीरीज जीत थी.