close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

मयंक अग्रवाल को वनडे टीम से बाहर करने पर बुरे फंसे चयनकर्ता, अब देनी पड़ी ये सफाई

मयंक अग्रवाल को वनडे और टी20 टीम में जगह न देने के बाद क्रिकेट फैंस चयनकर्ताओं के फैसले पर सवाल खड़े कर रहे हैं.

मयंक अग्रवाल को वनडे टीम से बाहर करने पर बुरे फंसे चयनकर्ता, अब देनी पड़ी ये सफाई
वनडे टीम में सलामी बल्लेबाज को शामिल न करके चयनकर्ताओं ने सभी को हैरत में डाल दिया है. (फोटो साभार: Twitter)

मुंबई: भारतीय टीम के खिलाड़ी मयंक अग्रवाल (Mayank Agarwal) को इंग्लैंड एंड वेल्स में हुए विश्व कप (ICC World Cup 2019) के दौरान ऑलराउंडर विजय शंकर (Vijay Shankar) के चोटिल होने पर टीम में शामिल किया गया था. उस समय सभी को लगा कि टीम मैनेजमेंट अग्रवाल को भविष्य में भारत की वनडे टीम के हिस्से के रूप मे भी देख रहा है, लेकिन वेस्टइंडीज दौरे के लिए चुनी गई वनडे टीम में सलामी बल्लेबाज को शामिल न करके चयनकर्ताओं ने सभी को हैरत में डाल दिया है. क्रिकेट फैंस अब चयनकर्ताओं के फैसले पर सवाल खड़े कर रहे हैं.

विश्व कप के दौरान सबसे पहले ऋषभ पंत को चोटिल हुए सलामी बल्लेबाज शिखर धवन के स्थान पर टीम में शामिल किया गया और फिर शंकर के चोटिल होने पर मयंक को टीम के साथ जोड़ा गया. मुख्य चयनकर्ता एम.एस. के प्रसाद ने कहा कि उन्होंने टीम मैनेजमेंट की मांग के मुताबिक कार्य किया.

मुख्य चयनकर्ता की सफाई
प्रसाद ने कहा, "सीरीज के बीच में मैं प्रेस कान्फ्रेंस में हिस्सा नहीं लेता हूं जिसने कई अफवाहों को जन्म दिया. जब धवन चोटिल हुए तब हमारे पास लोकेश राहुल के रूप में तीसरा सलामी बल्लेबाज मौजूद था. हमारे पास एक बाएं हाथ का बल्लेबाज नहीं था तो टीम प्रबंधन ने उसकी मांग की और हमारे पास पंत के अलावा और कोई विकल्प नहीं था. कई लोगों को हैरानी थी कि सलामी बल्लेबाज की जगह मध्यक्रम के बल्लेबाज को क्यों बुलाया गया और फिर विजय शंकर की जगह एक सलामी बल्लेबाज को."

ये भी कारण
प्रसाद ने कहा, "जब शंकर चोटिल हुए उसके बाद एक मैच में राहुल भी बाउंड्री के पास गिर गए इसलिए हमारे सामने एक मेडिकल इमर्जेंसी आई कि वो खेलना जारी रख पाएंगे या नहीं. उस समय लिखित में सलामी बल्लेबाज की मांग की गई और हम मयंक अग्रवाल की तरफ गए."

आपको बता दें कि वेस्टइंडीज के खिलाफ भारत को दो टेस्ट, तीन वनडे और तीन टी-20 मैच खेलने हैं.

(इनपुट-आईएएनएस)