close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

VIDEO: इंग्लैंड की जीत पर बोले ईयोन मोर्गन, 'राशिद ने कहा था - अल्लाह हमारे साथ है'

इंग्लैंड क्रिकेट टीम का विश्व विजेता बनने का सपना आखिरकार रविवार को क्रिकेट के मक्का कहे जाने वाले लॉडर्स मैदान पर बेहद नाटकीय अंदाज में 44 साल बाद पूरा हो गया.

VIDEO: इंग्लैंड की जीत पर बोले ईयोन मोर्गन, 'राशिद ने कहा था - अल्लाह हमारे साथ है'
इंग्लैंड को पहला विश्व कप खिताब दिलाने वाले कप्तान इयोन मोर्गन जीत के बाद बेहद खुश नजर आए...

लंदन: इंग्लैंड क्रिकेट टीम का विश्व विजेता बनने का सपना आखिरकार रविवार को क्रिकेट के मक्का कहे जाने वाले लॉडर्स मैदान पर बेहद नाटकीय अंदाज में 44 साल बाद पूरा हो गया. इंग्लैंड ने आईसीसी विश्व कप-2019 के फाइनल में न्यूजीलैंड को सुपर ओवर से मात दे पहली बार विश्व विजेता का तमगा हासिल किया है और इतिहास रचा. इंग्लैंड को पहला विश्व कप खिताब दिलाने वाले कप्तान इयोन मोर्गन जीत के बाद बेहद खुश नजर आए और अपनी टीम की जमकर तारीफ की. 

मैच के बाद मोर्गन ने कहा, "मेरे और मेरी टीम समेत पिछले चार साल में इससे जुड़े सभी लेगों के लिए यह जीत बहुत मायने रखती है. सही योजना, कड़ी मेहनत, समर्पण, प्रतिबद्धता और किस्मत का साथ होने के कारण आज हम खिताब जीत पाए हैं."

डबलिन में पैदा हुए मोर्गन से जब पूछा गया कि क्या उनका 'आयरिश लक' काम कर गया. मोर्गन ने मुस्कुराते हुए जवाब दिया, अल्लाह भी हमारे साथ था. मैंने आदिल (इंग्लैंड के लेग स्पिनर आदिल राशिद) से बात की तो उसने मुझसे कहा कि अल्लाह पक्के तौर पर हमारे ही साथ है." मोर्गन ने लंदन में प्रेस के सामने कहा, "हम विविध प्रकार की संस्कृति से आते हैं. हमारी टीम के खिलाड़ियों दूसरे देशों में पले-बढ़े हैं." 

 

 

मोर्गन ने इंग्लैंड स्विच करने से पहले अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में आयरलैंड का प्रतिनिधित्व किया था. बेन स्टोक्स जिन्होंने फाइनल में न्यूजीलैंड के खिलाफ नायक की भूमिका निभाई, उनका जन्म इंग्लैंड में हुआ है. इंग्लैंड टीम के ओपनर जेसन रॉय का जन्म दक्षिण अफ्रीका में हुआ है. इंग्लैंड के स्पिनर मोईन अली और आदिल राशिद पाकिस्तान मूल के हैं. 

सुपर ओवर से पहले उनके और खिलाड़ियों के बीच हुई बातचीत के बारे में बात करते हुए मोर्गन ने कहा, "हां, मैंने उन्हें मुस्कुराने, हंसने, आनंद लेने के लिए प्रोत्साहित किया क्योंकि मैच सुपर ओवर में गया था और डिफेंड करना था इसके कारण हम पर काफी दबाव था. खिलाड़ियों के चेहरों पर थोड़ी मुस्कान लानी थी और उन्होंने शानदार प्रतिक्रिया दी."

मोर्गन ने कहा, "हमने फाइनल में पहुंचने के लिए बहुत मेहनत की थी और आप जानते हैं कि एक थका देने वाले दिन में 'सुपर ओवर' खेलने के लिए आपको काफी अधिक प्रयास करने की जरूरत होती है. इसलिए शांत रहना बहुत जरूरी है, चाहे हम जीते या हारें, हमने बेहतरीन चीजें की."

(इनपुट IANS से)