close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

ICC World Cup: जेसन रॉय आउट थे, पर अंपायर और धोनी को नहीं हुआ भरोसा; टीम ने भुगता खामियाजा

जॉनी बेयरस्टो और जेसन रॉय इंग्लैंड की ओर से ओपनिंग करने उतरे. इन दोनों ने 22.1 ओवर में 160 रन की साझेदारी की. 

ICC World Cup: जेसन रॉय आउट थे, पर अंपायर और धोनी को नहीं हुआ भरोसा; टीम ने भुगता खामियाजा

नई दिल्ली: इंग्लैंड के खिलाफ आईसीसी विश्व कप (ICC World Cup 2019) में भारतीय टीम को एक निर्णय भारी पड़ सकता है. ‘करो या मरो’ का मुकाबला खेल रही इंग्लिश टीम इस मैच में टॉस जीतकर पहले बैटिंग कर रही है. उसने मैच में अच्छी शुरुआत की और 21वें ओवर में ही बिना विकेट गंवाए 150 रन का आंकड़ा पार कर लिया. हालांकि, ऐसा भारतीय टीम (Team India) की एक चूक की वजह से भी हुआ. यह चूक किसी और से नहीं, बल्कि अंपायर और सटीक डीआरएस लेने के लिए मशहूर एमएस धोनी (MS Dhoni) से हुई. 

भारत के खिलाफ इस मैच में इंग्लैंड की ओर से जॉनी बेयरस्टो और जेसन रॉय (Jason Roy) ओपनिंग करने उतरे. इन दोनों ने सतर्क शुरुआत की और शुरुआती 22 ओवर तक विकेट नहीं गंवाए. हालांकि, इस दौरान इंग्लिश ओपनरों को किस्मत का भी साथ मिला. मोहम्मद शमी और जसप्रीत बुमराह की गेंदों पर कई इन साइडएज स्टंप के करीब से तो गुजरे, लेकिन विकेट नहीं मिला. 

यह भी पढ़ें: ऋषभ पंत World Cup में खेलने उतरे, अब दिनेश कार्तिक का इंतजार शायद ही खत्म हो...

पारी के 11वें ओवर में हार्दिक पांड्या (Hardik Pandya) की एक गेंद जेसन रॉय के ग्लव्स को छूती हुई एमएस धोनी के करीब पहुंची. धोनी ने अपनी बाईं ओर डाइव करते हुए इसे लपक लिया. पांड्या ने आउट की अपील की, लेकिन उन्हें धोनी का बहुत साथ नहीं मिला. इस बीच, अंपायर ने वाइड बॉल का इशारा कर दिया. 
 

jason

हार्दिक पांड्या ने कप्तान विराट कोहली और साथियों को डीआरएस लेने की सलाह दी. जैसा कि अक्सर होता है कि कप्तान कोहली ने इसके लिए धोनी से पूछा. धोनी के उनके प्रशंसक डीआरएस (DRS) को धोनी रिव्यू सिस्टम भी कहते हैं. बहरहाल, धोनी को यकीन नहीं था कि जेसर रॉय आउट हैं. इसलिए उन्होंने डीआरएस नहीं लेने की सलाह दी. कप्तान कोहली ने डीआरएस नहीं लिया. बाद में टीवी रिप्ले में दिखा कि गेंद रॉय के ग्लव्स को छूकर गई थी. 

जेसन रॉय को जब भारत ने डीआरएस ना लेकर जीवनदान दिया तब वे 25 गेंदों पर 21 रन बनाकर खेल रहे थे. उन्होंने अंपायर और भारतीय टीम के डीआरएस ना लेने की गलती का पूरा फायदा उठाया. उन्होंने ना सिर्फ अर्धशतक पूरा किया, बल्कि जॉनी बेयरस्टो के साथ मिलकर इंग्लैंड को स्वर्णिम शुरुआत भी दी. जेसन रॉय जब आउट हुए, तब तक इंग्लैंड का स्कोर 160 रन हो चुका था. जेसन रॉय 57 गेंदों पर 66 रन बनाने के बाद कुलदीप यादव की गेंद पर रवींद्र जडेजा (सब्स्टीट्यूट) द्वारा लॉन्गऑन पर लपके गए.