close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

World Cup 2019: ECB निदेशक ने Extra रन के विवाद को बताया काल्पनिक, कहा- अब इंग्लैंड...

इंग्लैंड ने रविवार को खेले गए विश्व कप के फाइनल में न्यूजीलैंड को बाउंड्री काउंट के आधार पर हराया था.

World Cup 2019: ECB निदेशक ने Extra रन के विवाद को बताया काल्पनिक, कहा- अब इंग्लैंड...
इंग्लैंड ने आईसीसी वनडे विश्व कप का खिताब पहली बार जीता है. (फोटो: ANI)

लंदन: मेजबान इंग्लैंड के पहली बार विश्व कप जीतने की उपलब्धि पर ओवरथ्रो में मिले एक्सट्रा रन (Extra Run) का दाग लगता दिख रहा है. आईसीसी के बेस्ट अंपायरों में शुमार साइमन टॉफेल से लेकर पूर्व क्रिकेटर और मौजूदा क्रिकेटर भी इस पर सवाल उठा रहे हैं. लेकिन मेजबान इंग्लैंड एंड वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) के निदेशक एश्ले जाइल्स ने इस विवाद को काल्पनिक करार दिया है. इंग्लैंड ने रविवार को फाइनल में न्यूजीलैंड को बाउंड्री काउंट के आधार पर हराया था. दोनों टीमों का मैच निर्धारित 50 ओवर के बाद और सुपर ओवर भी टाई रहा था. 

न्यूजीलैंड ने इंग्लैंड को 242 रन का लक्ष्य दिया था. लक्ष्य का पीछा करते हुए जब आखिरी ओवर में इंग्लैंड के बेन स्टोक्स ने गेंद को बाउंड्री के पास खेला और दूसरा रन लेने के लिए दौड़े तो क्रीज में पहुंचने से पहले न्यूजीलैंड के क्षेत्ररक्षक द्वारा फेंकी गई गेंद उनके बल्ले से लगकर चौके को चली गई और इंग्लैंड के खाते में कुल छह रन आ गए. यह रन न्यूजीलैंड पर कितने भारी पड़े, अब यह सभी के सामने है. 

पूर्व अंपायर साइमन टॉफेल ने कहा है कि इंग्लैंड को एक रन अतिरिक्ति मिला क्योंकि जब गेंद स्टोक्स के बल्ले से टकरा कर चौके को गई तब दूसरा रन पूरा नहीं हुआ था. ऐसे में दौड़ने का एक रन और चौका मिलकर इंग्लैंड के खाते में पांच रन आने चाहिए थे न कि छह रन. इंग्लैंड के पूर्व स्पिनर जाइल्स ने इस तरह की बातों को खारिज किया है. 

ईसीबी डायरेक्टर जाइल्स के हवाले से इंग्लैंड की एक वेबसाइट ने लिखा है, ‘बिलकलु नहीं. आप मुझसे यह भी कह सकते हैं कि ट्रेंट बोल्ट की अंतिम गेंद जो लेग स्टम्प पर फुलटॉस थी और अगर स्टोक्स दो रन के लिए नहीं जाते तो वह उसे छह रनों के लिए भेज सकते थे. यह सब काल्पनिक बहस है.’ जाइल्स ने कहा, ‘हम विश्व विजेता हैं। हमें ट्रॉफी मिली है और हम इसे अपने पास रखना चाहते हैं.’

इंग्लैंड को इस मैच में कुल लगाई गई बाउंड्री के आधार पर जीत मिली थी. न्यूजीलैंड ने भी इस मैच में 241 रन बनाए और इंग्लैंड ने भी इतने ही रन बनाए. मैच सुपर ओवर में गया और यहां भी मैच टाई रहा जिसके बाद बाउंड्री ज्यादा मारने के कारण इंग्लैंड टीम विश्व विजेता बनी.