close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

World Cup 2019: अगर चोटिल 'गब्बर' हुए टीम इंडिया से बाहर, ये खिलाड़ी ले सकते हैं उनकी जगह

विश्व कप में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ शिखर धवन को अंगूठे में चोट लग गई थी जिसकी वजह से वे कुछ मैचों के लिए टीम से बाहर हो सकते हैं. 

World Cup 2019: अगर चोटिल 'गब्बर' हुए टीम इंडिया से बाहर, ये खिलाड़ी ले सकते हैं उनकी जगह
ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ धवन को अंगूठे पर चोट लगी जिसमें फ्रैक्चर निकला है. (फोटो :Reuters)

नई दिल्ली: इंग्लैंड में टीम इंडिया (Team India)  ने विश्व कप 2019 (World cup 2019) का शानदार आगाज कर पहले दक्षिण अफ्रीका और फिर उसके बाद ऑस्ट्रेलिया को हराया. लेकिन ऑस्ट्रलिया के खिलाफ टीम के शतकवीर शिखर धवन के अंगूठे में चोट लग गई और वे बल्लेबाजी के बाद फील्डिंग करने नहीं आए. अब उनके टूर्नामेंट से कम से कम तीन हफ्तों तक बाहर होने की खबरें आ रही हैं. ऐसे में कयास लगने शुरू हो गए हैं कि टीम में उनकी जगह कौन लेगा. इस पर कई नामों के चर्चाएं हैं जिनमें टीम के कप्तान विराट कोहली से लेकर पृथ्वी शॉ और पार्थिव पटेल तक के नाम लिए जा रहा हैं. 

धवन की कमी दो तरीके से हो सकी है पूरी 
शिखर के कुछ मैच में भी बाहर होने से टीम इंडिया में दो प्रमुख समस्याएं पैदा हो रही हैं एक तो प्लेइंग इलेवन में धवन की जगह कौन सा बल्लेबाज कौन होगा और दूसरा रोहित का जोड़ीदार कौन होगा. इसे ऐसा समझा जाए कि धवन की कमी को दो तरह से पूरा किया जा सकता है, एक तो यह कि सलामी बल्लेबाज वर्तमान टीम से ही निकाला जाए और बाकी विकल्पों से बेस्ट बल्लेबाज को उसकी क्षमता के मुताबिक टीम में स्थान दे दिया जाए. दूसरा यह कि टीम में नया सलामी बल्लेबाज शामिल किया जाए. दोनों लिहाज से टीम में धवन के विकल्प के तौर पर कई दावेदार हैं. 

यह भी पढ़ें: जब हार्दिक, धोनी खेलते हैं, तब मुझे सिर्फ 1 रन लेने में कोई समस्‍या नहीं है: कोहली

कौन जा सकता है गब्बर की जगह इंग्लैंड 
इस रेस में कई नाम शामिल हैं. इनमें ऋषभ पंत, अंबाती रायड़ू, अजिंक्य रहाणे,  मयंक अग्रवाल, पृथ्वी शॉ, पार्थिव पटेल, श्रेयस अय्यर जैसे कई दावेदार हैं. इनमें पंत, रायडू ओपनर तो नहीं बनेंगे लेकिन फिर धवन की जगह केएल राहुल को ओपनिंग करने का मौका मिल सकता है, लेकिन मयंक, पृथ्वी और पार्थिव में से कोई शामिल होता है तो ये सीधे ओपनर के तौर पर ही शामिल होंगे. इन खिलाड़ियों का इंग्लैंड में खेलने का अनुभव भी है. मयंक और पृथ्वी पिछले इंग्लैंड में इंडिया ए के लिए  भी खेले थे.  

यह भी पढ़ें: World Cup 2019: टीम इंडिया को दोहरी मार, विराट को नए कॉम्बिनेशन के लिए करनी होगी माथापच्ची

रहाणे क्यों नहीं?
वहीं अजिंक्य रहाणे की दावेदारी को भी यहां कम नहीं आंका जा सकता है, उनकी तकनीक इंग्लैंड में बारिश वाले मौसमों में काफी काम की साबित हो सकती है. उनका इंग्लैंड में और विदेशी पिचों पर शानदार अनुभव टीम इंडिया की काफी मदद कर सकता है. टूर्नामेंट से पहले कहा गया था कि इंग्लैंड में मौसम और पिच बल्लेबाजों के लिए मुफीद ही बताई गई थीं लेकिन बारिश ने कई मैचों को बदल कर रख दिया है.  इन हालातों में रहाणे टीम के काम के साबित हो सकते 

क्या रायडू या पंत को मिल सकता है पहले मौका?
इस संभावना कम नहीं है. जब 15 अप्रैल  को 15 सदस्यीय टीम इंडिया की घोषणा की गई थी, उस समय यही दो नाम सबसे ज्यादा हैरान करने वाले थे. ऋषभ पंत और अंबाती रायडू उस समय चयनकर्ताओं की बातों से लगा था कि उन्होंने इन खिलाड़ियों को पूरी तरह से खारिज नहीं किया है. लेकिन समस्या यह है कि दोनों ही सलामी बल्लेबाज नहीं हैं. लेकिन विराट कोहली इन दोनों खिलाड़ियों को टीम में शामिल कर कुछ आंतरिक बदलाव कर सकते हैंं. 

मौजूदा टीम में से कौन
सबसे पहले इंग्लैंड में ही उपलब्ध विकल्पों की बात करें तो सबसे  केएल राहुल ही धवन के विकल्प के पहले दावेदार हैं उन्हें टीम में बैकअप सलामी बल्लेबाज के तौर पर शामिल भी किया गया था. इसके बाद कप्तान विराट कोहली खुद भी सलामी बल्लेबाजी कर सकते हैं. ऐसी स्थिति में विजय शंकर और दिनेश कार्तिक को टीम में जगह मिल सकती है. दिनेश कार्तिक पहले भी कई बार टीम इंडिया के लिए सलामी बल्लेबाजी कर चुके हैं. ऐसे में वे भी ओपनर के तौर पर ही टीम में शामिल किए जा सकते हैं. 

KL Rahul  for opening

यह भी पढ़ें: World Cup: जब SA-WI मैच पर फिर रहा था पानी, शोएब अख्तर कह रहे थे, रेन-रेन गो अवे

केएल राहुल की दावेदार का क्या होगा असर
अगर केएल राहुल को धवन की जगह टीम में ओपनर के तौर पर भेजा जाता है तो फिर से नंबर चार का सवाल टीम इंडिया के लिए खड़ा हो जाएगा. ऐसे में सवाल धवन के विकल्प का नहीं बल्कि नंबर चार का विकल्प होगा. ऐसे में फिर विजय शंकर टीम के लिए आसान विकल्प हो जाएंगे, जिन्हें नंबर चार के लिए ही टीम में चुना गया है. विजय शंकर बहुत ही क्षमता वान खिलाड़ी हैं इसमें कोई शक नहीं है, लेकिन वे अभी तक खुद को अच्छे से साबित नहीं कर सके हैं जबकि अपनी प्रतिभा की झलक वे हमेशा ही दिखाते रहे हैं. इसके अलावा दिनेश कार्तिक भी टीम में काफी उपयोगी होंगे और उन्हें भी टीम में शामिल किया जा सकता है.