close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

VIDEO: धोनी को रन आउट करने वाले मार्टिन गप्टिल ने कहा, 'मैं खुशकिस्मत था कि...'

भारतीय टीम के पूर्व कप्तान एमएस धोनी न्यूजीलैंड के खिलाफ बुधवार को खेले गए सेमीफाइनल में रन आउट हो गए थे. न्यूजीलैंड के खिलाड़ी मार्टिन गप्टिल का एक सीधा थ्रो स्टंप से टकराया और धोनी आउट हो गए थे. 

VIDEO: धोनी को रन आउट करने वाले मार्टिन गप्टिल ने कहा, 'मैं खुशकिस्मत था कि...'
गप्टिल ने स्वयं को खुदकिस्मत बताया है...

नई दिल्ली: भारतीय टीम के पूर्व कप्तान एमएस धोनी न्यूजीलैंड के खिलाफ बुधवार को खेले गए सेमीफाइनल में रन आउट हो गए थे. न्यूजीलैंड के खिलाड़ी मार्टिन गप्टिल का एक सीधा थ्रो स्टंप से टकराया और धोनी आउट हो गए. धोनी के आउट होते ही भारत के फाइनल में पहुंचने की उम्मीद टूट गई. अब गप्टिल ने इस मामले पर अपनी प्रतिक्रिया दी है. उन्होंने स्वयं को खुशकिस्मत बताया है. 

गप्टिल ने कहा, "मैंने सोचा था कि गेंद मेरी ओर नहीं आ रही है. मैंने गेंद को पकड़ने के लिए तेजी से लपका, जैसे ही गेंद मेरे हाथ में आई, मैंने उसे तेजी से थ्रो किया. मैं भाग्यशाली था कि मेरा थ्रो वहां से सीधे स्टंप से टकराया." गप्टिल की इस प्रतिक्रिया को आईसीसी ने ट्वीट किया है. 

 

 

धोनी थे भारत की आखिरी उम्मीद
शुरुआती झटके खाने के बाद भारतीय पारी को जडेजा और धोनी की जोड़ी ने संभाला. ऐसा लग रहा था कि यह जोड़ी भारत को फाइनल में पहुंचा देगी तभी ट्रेंट बाउल्ट ने मैच का रुख बदल दिया. उन्होंने 208 के कुल स्कोर पर जडेजा को कप्तान केन विलियम्सन के हाथों कैच कराया। जडेजा ने 59 गेंदों का सामना कर चार चौके और चार छक्के मारे.

धोनी क्रीज पर भारत की आखिरी उम्मीद थे. भारत को आखिरी दो ओवरों में 31 रनों की दरकार थी. धोनी ने पहली गेंद पर छक्का मारा और दूसरी गेंद पर दो रन लेने चाहे. दूसरा रन लेने दौड़े धोनी, मार्टिन गप्टिल की डायरेक्ट हिट से पहले बल्ला क्रीज पर नहीं रख सके और यहीं भारत की उम्मीदें खत्म हो गई. धोनी ने 72 गेंदों का सामना कर एक छक्का और एक चौका लगाया.