close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

रिटायर होने के बाद युवराज ने इस 'खेल' को खेलने के लिए BCCI से मांगी अनुमति

हाल ही में क्रिकेट से संन्यास लेने वाले भारतीय हरफनमौला युवराज सिंह ने बीसीसीआई से दुनिया भर की टी20 लीग में खेलने की अनुमति मांगी है.

रिटायर होने के बाद युवराज ने इस 'खेल' को खेलने के लिए BCCI से मांगी अनुमति
बीसीसीआई ने सक्रिय खिलाड़ियों को विदेशी टी20 लीग में भाग लेने से मना किया है और यही कारण है कि युवराज ने दुनिया भर की प्रतियोगिताओं में भाग लेने के लिए संन्यास की घोषणा की.

नई दिल्‍ली: हाल ही में क्रिकेट से संन्यास लेने वाले भारतीय हरफनमौला युवराज सिंह ने बीसीसीआई से दुनिया भर की टी20 लीग में खेलने की अनुमति मांगी है. बीसीसीआई के एक सूत्र ने मंगलवार को बताया, ‘‘उन्होंने कल बोर्ड को पत्र लिखा है. अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट और आईपीएल से संन्यास के बाद मुझे नहीं लगता कि बोर्ड को उन्हें अनुमति देने में कोई परेशानी होगी.’’

बीसीसीआई ने सक्रिय खिलाड़ियों को विदेशी टी20 लीग में भाग लेने से मना किया है और यही कारण है कि युवराज ने दुनिया भर की प्रतियोगिताओं में भाग लेने के लिए संन्यास की घोषणा की. इससे पहले संन्यास लेने के बाद वीरेन्द्र सहवाग और जहीर खान जैसे क्रिकेटर यूएई में हुई टी10 लीग में खेल चुके हैं.

Video: एयरपोर्ट पर युवराज सिंह से टकरा गए शक्ति कपूर, फेमस डायलॉग हुआ वायरल

पिछले सप्ताह संन्यास की घोषणा के वक्त युवराज ने कहा था कि वह विदेशी टी20 लीग में खेलना चाहते हैं. उन्होंने कहा, ‘‘मैं टी20 क्रिकेट में खेलना चाहता हूं. इस उम्र में मैं मनोरंजन के लिए कुछ क्रिकेट खेल सकता हूं. मैं अब अपनी जिंदगी का लुत्फ उठाना चाहता हूं. अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट और आईपीएल के बारे में सोचना काफी तनावपूर्ण होता है.’’

रिटायरमेंट लेते हुए क्या बोले युवराज सिंह, एक-एक शब्द पढ़ें

भारत की तरफ से वेस्टइंडीज के खिलाफ जून 2017 में अपना आखिरी अंतरराष्ट्रीय मैच खेलने वाले युवराज ने पिछले सोमवार को मुंबई में संन्यास की घोषणा की. अपने 17 साल के अंतरराष्ट्रीय करियर के दौरान उन्होंने 2007 में टी20 विश्व कप और और 2011 में एकदिवसीय विश्व कप जीतने वाली भारतीय टीम में अहम योगदान दिया था.

युवराज ने भारत की तरफ से 40 टेस्ट, 304 वनडे और 58 टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेले. उन्होंने टेस्ट मैचों में 1900 और वनडे में 8701 रन बनाये. टी20 अंतरराष्ट्रीय में उनके नाम पर 1177 रन दर्ज हैं.

युवी के पिता योगराज सिंह का खुलासा, ‘मैं युवराज के प्रति बहुत कठोर था क्योंकि...’

युवराज मेरी सर्वकालिक महान खिलाड़ियों की सूची में रहेंगे: कपिल
इससे पहले दिग्गज क्रिकेटर और 1983 की विश्व कप विजेता टीम के कप्तान कपिल देव ने युवराज सिंह के संन्‍यास के ऐलान के बाद कहा कि वह जब भी सर्वकालिक महान भारतीय एकदिवसीय क्रिकेटरों की टीम बनायेंगे तो उस में हरफनमौला युवराज सिंह को जरूर जगह मिलेगी. कपिल ने कहा, ‘‘ युवराज कमाल के क्रिकेटर थे (हैं) और मैं जब भी भारत के सर्वकालिक महान खिलाड़ियों की एकदिवसीय टीम बनाऊंगा तो वह उस में जरूर होंगे.’’

भारत को 1983 में पहली बार विश्व चैम्पियन बनवाने वाले इस पूर्व कप्तान ने कहा कि युवराज को क्रिकेट के मैदान से विदाई मिलनी चाहिये थी. कपिल ने कहा, ‘‘ युवराज जैसे खिलाड़ी को क्रिकेट के मैदान से विदाई मिलनी चाहिए थी. कम से कम मैं ऐसा देखना चाहता था. उन्होंने अपने खेल से युवाओं को दीवाना बनाया. हमारे देश को ऐसे नायकों की जरूरत है जो आने वाली पीढ़ियों को प्रेरित कर सके. उन्हें पता चल सके कि युवराज ने अपनी जिंदगी में क्या झेला है.’’

(इनपुट: एजेंसी भाषा)