close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

लूटपाट की शिकार हुईं जिम्बाब्वे के पूर्व कप्तान की पत्नी, ट्विटर पर बताई पूरी घटना

जिम्बाब्वे क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान ब्रैंडन टेलर की पत्नी के साथ उनके घर के पास ही लूटपाट की वारदात हुई. 

लूटपाट की शिकार हुईं जिम्बाब्वे के पूर्व कप्तान की पत्नी, ट्विटर पर बताई पूरी घटना
(फाइल फोटो)

नई दिल्ली: हर देश में सुरक्षा के अपने पैमाने होते हैं. आमतौर पर माना जाता है कि कोई सेलिब्रिटी या उसका परिवार लूटपाट का शिकार हो तो उस क्षेत्र की सुरक्षा पर सवाल उठाना लाजमी है. जिम्बाब्वे के पूर्व क्रिकेट कप्तान ब्रेंडन टेलर की पत्नी के साथ जब इस तरह की घटना हुई तब ऐसी ही कुछ प्रतिक्रिया हुई. यह घटना कहीं और नहीं बल्कि राजधानी हरारे में खुद उनके घर के पास हुआ. बुधवार को टेलर ने खुद ट्वीट कर इसकी जानकारी दुनिया को दी. 

लोगों से अपील भी की टेलर ने
टेलर ने ट्विटर पर इस वाक्ये को विस्तार से बताते हुए लोगों से अपील भी करते हुए कहा किस तरह इस वारदात को अंजाम दिया गया. टेलर ने लोगों से अपने लिए कुछ सावधानी बरतने की भी सलाह दी. टेलर ने इस बात पर जोर दिया कि लोग को ऐसी वारदात को अंजाम देने वालों का आसान शिकार होने से बचना चाहिए. वहीं 
नजदीक के अवोडेल पुलिस स्टेशन ने बी सोशल मीडिया पर लोगों से चौकन्ना रहने की अपील की है. 

यह भी पढ़ें: World Cup 2019: टूर्नामेंट में नजर आएंगी ये 5 खास बातें, कई प्लेयर्स की होगी मुसीबत

खुद टेलर ने बताया हुआ क्या था
टेलर ने ट्वीट कर लिखा, 'मेरे घर के बाहर भयावह हालात थे, मैं रास्ते में अपनी पत्नी के लौटने का इंतजार कर रहा था. तभी दरवाजे के 100 मीटर की दूरी पर मुझे चिल्लाने की  आवाज सुनाई दी. मैनें देखा चार हथियारबंद लोग मेरी पत्नी के साथ छीना-झपटी कर रहे थे. मैं फौरन बाहर आकर उस तरफ भागा, वे फौरन रेड होंडा फिट कार में बैठकर भाग गए.'

केवल हैंडबैग का हुआ नुकसान
टेलर ने अपने अगले ट्वीट में कहा, ' खुशकिस्मती से मेरी पत्नी का सिर्फ हैंडबैग ही गया, और भी बहुत कुछ हो सकता था. लोग परेशान हो रहे हैं. अपने घर में घुसते समय सतर्क रहें और अंधेरे के बाद सड़कों से दूर रहने की कोशिश करें. ऐसा न होने पर हम उनके आसान शिकार हो जाते हैं. 

यह भी पढ़ें: टीम इंडिया- IPL दोनों में नहीं हैं इरफान पठान, फिर भी बने यह मुकाम पाने वाले पहले भारतीय

इस साल विश्व कप नहीं खेल रही है जिम्बाब्वे
 33 साल के ब्रैंडन टेलर जिम्बाब्वे के कप्तान रह चुके हैं. 2004 से उन्होंने अपना करियर शुरू किया था और जिम्बाब्वे के लिए 188 वनडे, 27 टेस्ट और 30 टी20 मैच खेले.  टेलर ने 16 इंटरनेशनल शतक भी लगाए हैं उन्होंने 2015 में भारत के खिलाफ शतक भी  लगाया था. इस विश्व कप में टेलर ने 72.16 की औसत से 433 रन बनाए थे. जिम्बाब्वे की टीम 1983 के बाद पहली बार 2019 में विश्व कप फाइनल्स में जगह बनाने में नाकाम रही.