गुमला में रात के अंधेरे में 12 दरिंदों ने 2 युवतियों के साथ किया गैंगरेप, पुलिस ने किया गिरफ्तार

दो युवतियां शादी समारोह में शामिल होने के लिए घर से निकली थीं.

गुमला में रात के अंधेरे में 12 दरिंदों ने 2 युवतियों के साथ किया गैंगरेप, पुलिस ने किया गिरफ्तार
प्रतीकात्मक फोटो

गुमला: एक तरफ दुनिया जब वैश्विक महामारी कोरोना वायरस (Coronavirus) को लेकर चिंतित है और इससे निपटने के लिए तरह-तरह के उपाय सोच रही है. ऐसे समय में देश में लॉकडाउन (Lockdown) बावजूद अपराधियों का हौसला बुलंद है और वो जघन्य अपराद करने से बाज नहीं आ रहे हैं.

झारखंड के गुमला में दो लड़कियों को बंधक बनाकर 12 युवकों द्वारा उनका गैंगरेप करने का मामला सामने आया है. यह घटना 3 अप्रैल की है जब दो युवतियां शादी समारोह में शामिल होने के लिए घर से निकली थीं लेकिन फिर रात होने के कारण विवाह के कार्यक्रम में न पहुंच सकीं और घर की तरफ वापस लौटने लगीं.

तभी 12 युवकों ने उन्हें पकड़ लिया और फिर उनके साथ मारपीट करके बड़ा खटका गांव स्कूल के पास ले गए. इसके बाद उन दोनों के साथ गैंगरेप किया. इतना ही नहीं बलात्कारियों ने दुष्कर्म करने के बाद युवतियों को धमकी भी दी कि अगर किसी के सामने मुंह खोला तो गांव से निकाल देंगे.

ये भी पढ़ें- कोरोना की वजह से अब दिल्ली की मंडियों में लागू हुई ऑड-ईवन पॉलिसी

इस घटना के बाद युवतियों ने डर के मारे किसी प्रकार का कोई मामला थाने में दर्ज नहीं करवाया. फिर 7 दिन बाद 10 अप्रैल को गुमला थाने में पहुंचकर 12 आरोपियों के खिलाफ गैंगरेप करने का केस दर्ज करवाया. जिसके बाद पुलिस ने 10 आरोपियों को गिरफ्तार करके जेल भेज दिया है.

बता दें कि जेल भेजे गए आरोपियों में खोईराम उरांव, रतन उरांव,अनिल उरांव ,राजेश उरांव, दिलेश्वर उरांव, सुकरा उरांव, संदीप उरांव ,महादेव उरांव, अजय उरांव और अनिल उरांव शामिल हैं. जबकि इस कांड में शामिल दो अन्य युवक अभी भी फरार हैं.

इस संबंध में गुमला थाना प्रभारी शंकर ठाकुर ने बताया कि सभी आरोपियों अपना दोष स्वीकार कर लिया है.

बता दें कि गैंगरेप के 10 आरोपियों को जेल भेज दिया गया है. लेकिन दोनों पीड़ित युवतियों के परिवार अभी भी डरे-सहमे हुए हैं ना जाने कब-क्या हो जाए. उन्होंने प्रशासन और सरकार से सुरक्षा की मांग की है.

LIVE TV

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.