Breaking News
  • 15 साल में बिहार बहुत आगे बढ़ा- प्रधानमंत्री
  • बिहार: दरभंगा में प्रधानमंत्री मोदी की रैली
  • मेरे मित्र, भाई नीतीश जी को आपके आशीर्वाद निश्चित मिलने वाले हैं: दरभंगा रैली में बोले पीएम मोदी

कार से सामान चुराने वाले 4 बदमाश गिरफ्तार, इस 'हथियार' से देते थे वारदात को अंजाम

दिल्ली पुलिस ने एक ऐसे गैंग को गिरफ्तार किया है. जो गुलेल से निशाना बनाकर वारदात को अंजाम देता था. तभी इसका नाम गुलेल गैंग पड़ा.

कार से सामान चुराने वाले 4 बदमाश गिरफ्तार, इस 'हथियार' से देते थे वारदात को अंजाम
प्रतीकात्मक तस्वीर

नई दिल्ली: दिल्ली पुलिस ने एक ऐसे गैंग को गिरफ्तार किया है. जो गुलेल से निशाना बनाकर वारदात को अंजाम देता था. तभी इसका नाम गुलेल गैंग पड़ा. गुलेल गैंग के लोग पहले दूर से गुलेल के जरिये कार का शीशा तोड़ते और फिर मौका पाकर कार में रखा सामान लेकर फरार हो जाते.पुलिस ने इस गैंग के चार लोगों समेत चोरी का सामान खरीदने वाले एक रिसीवर को भी गिरफ्तार किया है.

एम्स के डॉक्टर की शिकायत पर पुलिस ने शुरू की थी जांच
साउथ डिस्ट्रिक्ट दिल्ली के डीसीपी अतुल ठाकुर ने बताया कि 2 सितंबर को गार्गी कॉलेज के पास एम्स के एक डॉक्टर ने अपनी कार पार्क की और कुछ देर बाद जब वह वापस लौटे तो उसकी कार का शीशा टूट हुआ था. डॉक्टर ने अंदर झांककर देखा तो कार में से उनका आईपैड, लैपटॉप गायब था. इसके बाद पीड़ित डॉक्टर ने पुलिस स्टेशन डिफेंस कॉलोनी में शिकायत दी. पुलिस ने मामले की तहकीकात शुरू करते हुए मौका ए वारदात के आसपास लगे सीसीटीवी फुटेज की जांच की तो उसमें एक संदिग्ध ऑटो कार के आसपास रुककर कुछ करते हुए देखा गया. 

सड़क पर रेकी कर कार को चिन्हित करते थे
ऑटो के रजिस्ट्रेशन नम्बर के जरिए मैदानगढ़ी थाने की पुलिस ने सबसे पहले संगम विहार से एक आरोपी मोहम्मद ज़ाकिर को पकड़ा. फिर उसकी निशानदेही पर उसके 2 साथी अंकित और अजय को भी गिरफ्तार किया गया. तीनों आरोपियो ने बताया कि वे ऑटो में बैठकर पहले सड़क पर खड़ी कारों की रेकी करते थे और फिर जिस कार में कोई बैग या फिर महंगा सामान रखा दिखाई देता, उसे चिन्हित कर लेते. इसके बाद ऑटो में बैठे- बैठे दूर से ही गुलेल से कार का शीशा फोड़ते. 

गुलेल से शीशा तोड़कर कार से सामान निकाल लेते थे
शीशा टूटने के बाद थोड़ी देर तक अगर कार के आसपास कोई हलचल नहीं होती तो उसके पास जाकर कार में रखा सामान निकालकर फरार हो जाते. चोरी का सारा सामान हरियाणा के हिसार में मुकेश पूनिया नाम के एक शख्स को बेच देते थे. पुलिस ने हिसार से मुकेश पूनिया को भी गिरफ्तार किया है. आरोपियों ने बताया कि वे पुलिस से बचने के लिए फ्री टोन्स एप के जरिए बात करते थे. गुलेल गैंग की गिरफ्तारी से कई मामले सुलझने के आसार हैं. 

LIVE TV