Churu: 17 किलो सोने और 8.92 लाख रुपए लूटकांड का हुआ खुलासा, 2 बदमाश गिरफ्तार

पुलिस जीपीएस सिगनल की दिशा में पहुंची तो 4 में से 2 बदमाश पैदल ही भाग गए. पुलिस ने मौके से दो आरोपी हनीश व साहदाब को दबोच कर सोने से भरे हुए बैग में लूट की राशि बरामद कर ली.

Churu: 17 किलो सोने और 8.92 लाख रुपए लूटकांड का हुआ खुलासा, 2 बदमाश गिरफ्तार
पुलिस लूटे हुए सोने और नगद राशि को बरामद कर लिया.

Churu: चूरू के व्यस्ततम इलाके मणप्पुरम गोल्ड लोन फाइनेंस लिमिटेड में 17 किलो सोना है 8 लाख 92 हजार की लूट की वारदात मामले में पुलिस को बड़ी कामयाबी हाथ लगी है. पुलिस ने घटना को अंजाम देने वाले दो बदमाशों को हिसार के कुछ दूर सूर्यवाला में राउंड ऑफ कर गिरफ्तार कर लिया. पुलिस दोनों आरोपियों को कड़ी सुरक्षा के बीच चूरू लेकर आ चुकी है.

जिस सोने को लूटा उस में लगी हुई थी चिप
वारदात के बाद पुलिस को कंपनी के कर्मचारियों से पता चला कि सोने को ट्रैक करने के लिए चिप लगाई हुई है. बाद में पुलिस की ओर से कंपनी के हेड क्वार्टर से कोड लेकर जीपीएस से ट्रैक करना शुरू कर दिया तो लोकेशन हरियाणा की तरफ नजर आई. बदमाशों ने फाइनेंस कंपनी में लगे सीसीटीवी कैमरों को भी तोड़ दिया था. लेकिन घटनाक्रम कंपनी के हेड ऑफिस में मॉनिटरिंग के लिए लगे कैमरे में उनके फुटेज कैद हो गए जो कि पुलिस के लिए मददगार साबित हुए. 

पुलिस ने एक बदमाश की पहचान करते हुए उसकी मोबाइल लोकेशन को ट्रेस किया. एसपी नारायण टोग्स स्वंय गाड़ी से पीछे रवाना हो गए. उनके साथ एएसपी योगेंद्र फौजदार व सीओ सिटी ममता सारस्वत सहित अन्य पुलिसकर्मी भी रवाना हुए.

ये भी पढ़ें-राजस्थान में अपराधी बेखौफ! चूरू में दिनदहाड़े 25 किलो सोने के साथ 9 लाख रुपए की लूट

बाइक छोड़कर कार में बैठे
एसपी नारायण टोग्स ने बताया कि बदमाशों को अंदेशा हो गया कि पुलिस उनके पीछे लगी हुई है. ऐसे में उन्होंने पुलिस को चकमा देने के लिए बाइकों को छोड़कर रास्ते में खड़ी कार से हरियाणा के लिए रवाना हो गए. हिसार के करीब 50 किलोमीटर दूर नाकाबंदी देख उन्होंने कार को पेट्रोल पंप के अंदर घुसा दी. पेट्रोल पंप कर्मियों के पूछने पर किस्त नहीं जमा होने पर फाइनेंस कंपनी व पुलिस के पीछा किए जाने की बात कही गई.

पुलिस जीपीएस सिगनल की दिशा में पहुंची तो 4 में से 2 बदमाश पुलिस को आता देख कर पैदल ही भाग गए. पुलिस ने मौके से दो आरोपी हनीश ठाकुर निवासी मनाली व साहदाब निवासी मुजफ्फर नगर को दबोच कर सोने से भरे हुए बैग में लूट की राशि बरामद कर ली.

राजगढ़ इलाके से चुराई थी मोटरसाइकिल
पुलिस के अनुसार, वारदात को अंजाम देने के लिए आरोपियों ने राजगढ़ इलाके से बाइकों को चुराया था. तलाशी लेने पर उनके कब्जे से तीन पिस्टल सहित जिंदा कारतूस भी बरामद किए गए हैं. एसपी नारायण टोग्स ने बताया कि चारों आदतन अपराधी हैं, उनके खिलाफ अलग-अलग राज्यों में हत्या लूट अपहरण के मामले दर्ज हैं.

एसपी ने बताया कि पूछताछ में सामने आया कि अलग-अलग राज्यों में भी लूट हत्या व अपहरण जैसी वारदातों को अंजाम देकर दूसरे राज्यों में फरार हो जाते हैं. कुछ दिन फरारी काटने के बाद वारदातों को अंजाम देते हैं. ऐसा माना जा रहा है कि चूरू में फाइनेंस कंपनी की लूट वारदात को अंजाम देने के लिए पहले से अच्छी तरह से रेकी कर ली. उन्हें पता था कि कंपनी में सुरक्षाकर्मी तैनात नहीं है. एक-दो बार आकर कंपनी की पूरी प्रक्रिया सहित सुरक्षा इंतजामों का जायजा भी लिया था.

ये भी पढ़ें-Kota : दिनदहाड़े दुकानदार पर फायरिंग, CCTV में कैद हुई फायरिंग की घटना

 

ब्रांच के कैमरे भी तोड़े
मामले में फाइनेंस कंपनी की लापरवाही भी सामने आई है. बताया जा रहा है कि वहां तैनात गार्ड को करीब 6 माह पहले ही हटा दिया था. माना जा रहा है कि लूट की घटना से पहले बदमाशों ने पूरी तरह रेकी की थी. लौटते वक्त ब्रांच में लगे सीसीटीवी कैमरों को भी तोड़ दिया. डीवीआर साथ में ले गए. ब्रांच के पास स्थित एक मॉल में लगे सीसीटीवी कैमरों में दो बदमाश सर पर काली टोपी लगाए हुए बैग ले जाते हुए दिखे. बदमाशों के नकाबपोश चेहरे सीसीटीवी में कैद हो गए.

12 मिनट में दिया वारदात को अंजाम
बैंक की एक महिला कर्मचारी ने बताया कि चारों युवक करीब 3:00 बजे अंदर आए थे. उन्होंने अंगूठी देकर लोन लेने की बात की. इसके बाद पूरी वारदात को अंजाम देकर 3:12 के करीब चारों बाहर निकल गए. आसपास की दुकानों में लगे सीसीटीवी कैमरों में चारों युवकों के आने पर जाने की फुटेज भी सामने आई है.

वहीं, विधानसभा नेता प्रतिपक्ष नेता राजेंद्र राठौड़ ने भी बयान जारी कर कहा कि पुलिस के चप्पे-चप्पे पर तैनात होने के बावजूद भी इस तरह की घटना जिला मुख्यालय पर होना पुलिस की कार्यशैली पर तमाचा है.

(इनपुट-मनोज प्रजापत)

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.