महंगे मोबाइल, सस्ते में खरीदना पड़ सकता है भारी, शातिर ठग इस तरह बना सकते हैं निशाना

एक गिरोह सड़कों पर घूमते हुए आपको अपना महंगा मोबाइल किसी मजबूरी के चलते सस्ते दाम पर खरीदने का लालच दे सकता है.

महंगे मोबाइल, सस्ते में खरीदना पड़ सकता है भारी, शातिर ठग इस तरह बना सकते हैं निशाना

नई ​दिल्ली: अगर आपको कोई अपनी मजबूरी बताकर महंगे मोबाइल सस्ते दाम पर बेचने की कोशिश करे तो सावधान हो जाइएगा क्योंकि दिल्ली में इन दिनों शातिर ठगों की कोई कमी नहीं है. ऐसा ही एक गिरोह सड़कों पर घूमते हुए आपको अपना महंगा मोबाइल किसी मजबूरी के चलते सस्ते दाम पर खरीदने का लालच दे सकता है. अगर आप उनके झांसे में आ गए तो पैसे लेने के बाद काले रंग की पॉलिथीन में ठीक मोबाइल की शेप और वजन के बराबर कांच का टुकड़ा थमाकर फरार हो जाएंगे.

कुछ इसी तरह की वारदातों को अंजाम देने में लगे एक गिरोह को साउथ डिस्ट्रिक्ट की पुलिस ने गिरफ्तार किया है, जो मेरठ से आकर दिल्ली में इस तरह की वारदातों को अंजाम देता था.

साउथ डिस्ट्रिक्ट की स्पेशल स्टाफ की टीम के इंस्पेक्टर गिरीश कुमार ने अपनी टीम के साथ बीआरटी कॉरिडोर पर एक ट्रैप लगाया जहां पर एक बाइक पर सवार दो लड़के आ रहे थे जिन्हें पुलिस ने रोकने की कोशिश की तो बाइक चालक तो बाइक के साथ फरार हो गया लेकिन पुलिस ने पीछे बैठे युवक को पकड़ लिया. इसकी पहचान मेरठ के रहने वाले उमर जाहिद के तौर पर हुई. इसके पास से पुलिस ने एक मोबाइल फोन, एक डमी फोन और एक कांच के टुकड़ा बरामद किया जिसको काले रंग की पॉलिथीन में लपेट कर रखा गया था जो देखने मे बिल्कुल असली मोबाइल फोन जैसा लग रहा था.

पुलिस की पूछताछ में उसने बताया कि वो और उसका साथी मेरठ से आते और राह चलते ऐसे लोगों को अपना शिकार बनाते जो कम कीमत पर महंगा फोन खरीदने के झांसे में आसानी से आ जाते थे. इसके बाद ये लोग बड़ी चालाकी से अपने शिकार को काली पॉलीथिन में मोबाइल की शेप और वजन का कांच के टुकड़ा थमा कर फरार हो जाते. जब तक उस व्यक्ति को अपने ठगे जाने का अहसास होता ये लोग काफी दूर निकल जाते थे. पुलिस ने इस आरोपी की गिरफ्तारी से कई केस सुलझाए लिए हैं.

दक्षिण दिल्ली के डीसीपी अतुल कुमार ठाकुर के मुताबिक, दिल्ली पुलिस ने इन दिनों स्ट्रीट क्राइम को देखते हुए स्नैचर्स की धड़पकड़ के लिए एक अभियान चलाया हुआ है. उसी कड़ी में पुलिस पिकेट पर तैनात पुलिस टीम ने इस बदमाश को गिरफ्तार किया. अब इसके जरिए इसकी साथी की भी पहचान की जा रही है और जल्द ही उसे भी गिरफ्तार किया जाएगा.

वैसे पुलिस इस गिरोह को तो सलाखों के पीछे पहुंचा देगी लेकिन इन बदमाशों की गिरफ्तारी लोगों के लिए भी एक सबक है कि सस्ते के लालच में आकर ऐसे शातिर ठगों का शिकार न बन जाएं.

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.