close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

एल पासो हत्याकांड मामले में शूटर ने किया बड़ा खुलासा, बोला- 'जानबूझकर 'मैक्सिकन्स' को निशाना बनाया'

पुलिस ने बताया कि पैट्रिक ने जिस तरह से एक विशेष वर्ग को अपना निशाना बनाया है वह हेट क्राइम की ओर इशारा करता है.

एल पासो हत्याकांड मामले में शूटर ने किया बड़ा खुलासा, बोला- 'जानबूझकर 'मैक्सिकन्स' को निशाना बनाया'

नई दिल्लीः अमेरिकी के एल पासो स्थित वॉलमार्ट स्टोर में 3 अगस्त को हुई गोलीबारी में 20 से अधिक की मौत के जिम्मेदार आरोपी ने मामले में बड़ा खुलासा किया है. आरोपी पैट्रिक क्रूसियस (Patrick Crusius) ने पुलिस को दिए अपने बयान में बताया है कि उसने जान-बूझकर कर 'मेक्सिकन्स' को निशाना बनाया था. घटना की जानकारी देते हुए पुलिस अधिकारियों ने बताया कि पैट्रिक ने अपने बयान में बताया है कि वह एक शूटर है और उसने ही एक AK-47 के साथ वॉलमार्ट स्टोर में घुसकर इस हत्याकांड को अंजाम दिया है. पैट्रिक ने अपने बयान में यह भी बताया है कि उसने सोची-समझी प्लानिंग के तहत मैक्सिकन्स को निशाना बनाया.

बता दें एल पासो के एक शॉपिंग मॉल में बीते 3 अगस्त को उस वक्त तहलका मच गया जब एक युवक ने अचानक ही ओपन फायरिंग शुरू कर दी. इस फायरिंग में 22 लोगों की मौत हो गई, जिनमें से 8 मैक्सिकन नागरिक शामिल थे. पीड़ितों में से लगभग सभी हिस्पैनिक मूल के थे. पुलिस ने आरोपी की पहचान सोशल मीडिया पोस्ट के जरिए की, इस ऑनलाइन पोस्ट में युवक क्राइस्टचर्च नरंसहार के जिम्मेदार आरोपी की भी तारीफ करते नजर आ रहा है.

देखें लाइव टीवी

पोस्ट में युवक ने हिस्पैनिक मूल के लोगों पर गुस्सा जाहिर करते हुए उन्हें नस्लीय मिश्रण को बढ़ाने का दोषी करार दिया है. पुलिस ने बताया कि पैट्रिक ने जिस तरह से एक विशेष वर्ग को अपना निशाना बनाया है वह 'हेट क्राइम' के अंतर्गत आता है. उसने जानबूझकर मैक्सिकन नागरिकों को अपना निशाना बनाया और इस नरसंहार को अंजाम दिया. पैट्रिक ने सोशल मीडिया पर जो पोस्ट्स लिखे हैं उससे यह हत्याकांड हेट क्राइम की ओर ही इशारा करते हैं.

अमेरिका के टेक्‍सास में 21 साल के शूटर ने की गोलीबारी, 20 की मौत, 26 घायल

बता दें एल पासो के एक शॉपिंग मॉल में हुए इस हत्याकांड पर अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने भी नाराजगी जताई थी और कहा था कि, अमेरिका में नफरत के लिए कोई जगह नहीं है. उन्होंने हिंसा के लिए मानसिक बीमारियों को दोषी ठहराते हुए कहा कि 'हमारे देश में किसी भी तरह की घृणा और नफरत के लिए कोई जगह नहीं है. यह हमारे देश में वर्षों से चला आ रहा है और हमें इसे रोकना होगा.'