Nikita Tomar Murder Case: Reopen होगी निकिता के पुराने किडनैपिंग केस की फाइल, कोर्ट ने दी अनुमति

आरोप है कि तौसीफ (Tauseef) न सिर्फ निकिता तोमर (Nikita Tomar) के साथ जबरदस्ती शादी करना चाहता था, बल्कि उस पर अपना धर्म बदलने के लिए भी दबाव डाल रहा था. इस बात की तस्दीक खुद निकिता तोमर (Nikita Tomar) के साथ बी.कॉम ऑनर्स के थर्ड ईयर में पढ़ने वाले उसके दोस्तों ने की.

Nikita Tomar Murder Case: Reopen होगी निकिता के पुराने किडनैपिंग केस की फाइल, कोर्ट ने दी अनुमति

फरीदाबाद: हरियाणा (Haryana) के फरीदाबाद में हुए लव जेहाद के मामले में मंगलवार को मृतक छात्रा निकिता तोमर (Nikita Tomar) के पुराने किडनैपिंग केस को रीओपन करने की अनुमति कोर्ट ने दे दी. जिसके बाद फरीदाबाद पुलिस ने आरोपी तौसीफ (Tauseef) को एक दिन की पुलिस रिमांड पर ले लिया है.

आपको बता दें कि इसके साथ ही अदालत ने आरोपी तौसीफ (Tauseef) पर निकिता तोमर (Nikita Tomar) की हत्या, अपहरण, आपराधिक साजिश, आर्म्स एक्ट और धारा 34 के तहत आरोप तय कर दिए हैं.

जान लें कि बीते अक्टूबर महीने में हरियाणा (Haryana) के फरीदाबाद (Faridabad) में आरोपी तौसीफ (Tauseef) ने छात्रा निकिता तोमर (Nikita Tomar) के स्कूल के बाहर से उसको किडनैप करने की कोशिश की थी. हालांकि तौसीफ (Tauseef) जब इसमें नाकाम रहा तो उसने निकिता के सिर में गोली मार दी थी.

ये भी पढ़ें- Viral Video: बुर्के में आई महिला ने सरेआम दागीं गोलियां, खुद को बताया 'गैंगस्टर की बहन'

गौरतलब है कि फरीदाबाद में निकिता हत्याकांड (Nikita Murder case) में मुख्य आरोपी तौसीफ (Tauseef) समेत तीन गिरफ्तारियां की थीं. तौसीफ (Tauseef) ने निकिता तोमर (Nikita Tomar) की हत्या में अवैध हथियार का इस्तेमाल किया था.

आरोप है कि तौसीफ (Tauseef) न सिर्फ निकिता तोमर (Nikita Tomar) के साथ जबरदस्ती शादी करना चाहता था, बल्कि उस पर अपना धर्म बदलने के लिए भी दबाव डाल रहा था. इस बात की तस्दीक खुद निकिता तोमर (Nikita Tomar) के साथ बी.कॉम ऑनर्स के थर्ड ईयर में पढ़ने वाले उसके दोस्तों ने की.

निकिता के मानसिक स्वास्थ्य पर भी पड़ने लगा था असर
निकिता तोमर (Nikita Tomar) के साथ पढ़ने वाली सहेलियों ने बताया कि तौसीफ निकिता को पिछले ढाई महीने से बहुत ज्यादा परेशान कर रहा था और इसका असर निकिता के मानसिक स्वास्थ्य पर भी पड़ने लगा था. लेकिन हमारी पड़ताल में ये पता चला है कि तौसीफ निकिता को ढाई महीनों से नहीं, बल्कि कई वर्षों से परेशान कर रहा था और इसकी शुरुआत होती है, फरीदाबाद के रावल इंटरनेशनल स्कूल से.

ये भी पढ़ें- Exclusive: जानिए क्या है Delhi Riots से बंगाली बोलने वाली 300 महिलाओं का कनेक्शन

कई वर्षों से निकिता को परेशान कर रहा था तौसीफ
निकिता ने इस स्कूल से 12वीं कक्षा तक की पढ़ाई की थी और तौसीफ भी इसी स्कूल में पढ़ा करता था और यहीं से तौसीफ, निकिता से एकतरफा प्यार करने लगा. आरोपों के मुताबिक, ये एकतरफा प्यार जबरन शादी और निकिता का धर्म परिवर्तन कराने की जिद में बदल गया.

हत्याकांड ने पूरे देश की आत्मा को झकझोर दिया
निकिता हत्याकांड (Nikita Murder case) ने सिर्फ फरीदाबाद ही नहीं बल्कि पूरे देश की आत्मा को झकझोर दिया था. हर शहर, हर मोहल्ले, हर गांव और हर घर में रहने वाली निकिता जैसी करोड़ों बेटियां इस घटना से डर गई थीं क्योंकि, उन्हें नहीं पता कि कब कौन सा तौसीफ उनके तमाम सपनों को अपनी जिद की आग में जला देगा.

LIVE TV

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.