Zee Rozgar Samachar

बेंगलुरु हिंसा: कांग्रेस के पूर्व मेयर संपत राज गिरफ्तार, अस्पताल से हो गए थे फरार

पुलिस ने कांग्रेस पार्षद और पूर्व मेयर संपत राज (Sampath Raj) को बेंगलुरु से गिरफ्तार किया गया है. उन पर हिंसक भीड़ को उकसाने का आरोप है.

बेंगलुरु हिंसा: कांग्रेस के पूर्व मेयर संपत राज गिरफ्तार, अस्पताल से हो गए थे फरार
(फाइल फोटो)

बेंगलुरु: कर्नाटक की राजधानी बेंगलुरु (Bengaluru) में हुई हिंसा के मामले में वांछित कांग्रेस पार्षद और पूर्व मेयर संपत राज (Sampath Raj) को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. देवरा जीवनहल्ली नगरपालिका वार्ड से पार्षद संपत राज को बेंगलुरु से गिरफ्तार किया गया है. उन पर हिंसक भीड़ को उकसाने का आरोप है.

हिंसा में 4 लोगों की हुई थी मौत
11 अगस्त को बेंगलुरु के देवरा जीवनहल्ली और कडुगोंडनहल्ली इलाके में हिंसा हुई थी, जिसमें 4 लोगों की मौत हो गई थी. नाराज भीड़ ने देवरा जीवनहल्ली और कडुगोंडनहल्ली थानों में आग लगा दी थी और सरकारी व निजी संपत्तियों को नुकसान पहुंचाया था. इसके अलावा भीड़ में शामिल लोगों ने कांग्रेस विधायक अखंड श्रीनिवास मूर्ति के घर पर भी आग लगा दी थी.

LIVE टीवी

संपत राज पर ये हैं आरोप
पूर्व मेयर संपत राज के खिलाफ कुछ दिन पहले गैर जमानती वारंट जारी किया गया था और उनके खिलाफ डीजे हल्ली में 400 पन्नों की प्रारंभिक चार्जशीट दाखिल की गई थी. चार्जशीट के मुताबिक संपत राज पर पुलकेशी नगर के कांग्रेस विधायक अखंड श्रीनिवास मूर्ति के घर में आग लगाने वाली हिंसक भीड़ को उकसाने का आरोप है. इसके अलावा उन पर बेंगलुरु हिंसा, विधायक अखंड श्रीनिवास मूर्ति और उनकी बहन जयंती को निशाना बनाने की साजिश रचने का आरोप है.

कोरोना इलाज के दौरान हुए थे फरार
संपत राज के कोरोना वायरस से संक्रमित होने के बाद अस्पताल में भर्ती कराया गया था, लेकिन एक निजी अस्पताल में इलाज के दौरान वह फरार हो गए थे. पुलिस ने हाल ही में संपत राज से सहयोगी को अरेस्ट किया था, जिसके बाद उनकी गिरफ्तारी हुई है. हालांकि गिरफ्तारी के बारे में पुलिस ने विस्तृत जानकारी नहीं दी है.

क्या है पूरा मामला
बता दें कि कांग्रेस विधायक आर अखंड श्रीनिवास मूर्ति के एक रिश्तेदार ने फेसबुक पर कथित भड़काऊ पोस्ट डाला था, जिसके बाद 11 अगस्त को बेंगलुरु में हिंसा भड़क गई थी, जिसमें 4 लोगों की मौत हो गई थी. मामले में बेंगलुरु पुलिस ने 65 मामले दर्ज किए थे और 350 से अधिक लोगों को गिरफ्तार किया था.

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.