close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

गैंगस्टर इकबाल मिर्ची केस: रिंकू देशपांडेय के तार हवाला ऑपरेटरों से जुड़े

रिंकू देशपांडे इस कड़ी में बेहद अहम कहीं जा रही है. इकबाल मर्चेंट और बिल्डर रंजीत सिंह बिंद्रा को मिलाने वाली कड़ी के रूप में रिंकू देशपांडे थी. प्रवर्तन निदेशालय के सूत्रों के मुताबिक रिंकू ना केवल मिलाने की कड़ी के रूप में सामने थे, बल्कि फर्जी किरायेदारों के लिए कागजात तैयार करने के साथ, इस पूरे मामले में लेनदेन के लिए पैसों को और रखने के लिए अलग-अलग अकाउंट भी रिंकू के जरिए ही खोले गए थे.

गैंगस्टर इकबाल मिर्ची केस: रिंकू देशपांडेय के तार हवाला ऑपरेटरों से जुड़े

राजीव रंजन, मुंबई: गैंगस्टर इकबाल मिर्ची (Iqbal Mirchi case) के मामले में अब तक गिरफ्तार चार आरोपियों में से रिंकू देशपांडेय के तार हवाला ऑपरेटरों से जुड़े होने का संदेह प्रवर्तन निदेशालय को है. प्रवर्तन निदेशालय ने रिंकू देशपांडे को पीएमएलए कोर्ट में पेशकर 2 दिनों की हिरासत ले ली है. रिंकू देशपांडे इस कड़ी में बेहद अहम कहीं जा रही है. इकबाल मर्चेंट और बिल्डर रंजीत सिंह बिंद्रा को मिलाने वाली कड़ी के रूप में रिंकू देशपांडे थी. प्रवर्तन निदेशालय के सूत्रों के मुताबिक रिंकू ना केवल मिलाने की कड़ी के रूप में सामने थे, बल्कि फर्जी किरायेदारों के लिए कागजात तैयार करने के साथ, इस पूरे मामले में लेनदेन के लिए पैसों को और रखने के लिए अलग-अलग अकाउंट भी रिंकू के जरिए ही खोले गए थे.

रिंकू देशपांडे की गिरफ्तारी इस मामले में पहले से गिरफ्तार रणजीत सिंह बिंद्रा के बयान के आधार पर हुई. रणजीत सिंह बिंद्रा ने बताया इकबाल मिर्ची से मुलाकात लंदन में हुई थी, जहां तीन पार्टियों के खरीद-फरोख्त के बारे में चर्चा हुई थी. इन तीन पार्टियों के खरीद-फरोख्त की दलाली भी तकरीबन 30 करोड के रूप में रणजीत सिंह बिन्द्रा को मिले थे.

प्रवर्तन निदेशालय का आरोप है कि रिंकू देशपांडे ने प्रॉपर्टी की खरीद-फरोख्त में मिले चेक को चेन्नई के अलग-अलग बैंकों में जमा करने के लिए फर्जी कागजात के साथ अकाउंट भी खोले थे. इसके अलावा फर्जी कागजात के आधार पर वर्ली के प्रॉपर्टी में किराएदार भी रखा था. यह सारे किराएदार केवल दस्तावेजों में ही थे. इन आरोपों के अलावा प्रवर्तन निदेशालय इस बात की भी जांच कर रही है कि इस पूरे प्रकरण में रिंकू और इकबाल मिर्ची के इस साठगांठ में और कौन कौन से लोग जुड़े हैं.

इकबाल मिर्ची के मामले में प्रापर्टी डीलर रणजीत सिंह बिन्द्रा को एक दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा गया है. 24 अक्टूबर तक न्यायिक हिरासत में रणजीत सिंह बिन्द्रा के जमानत याचिका पर 24 अक्टूबर को सुनवाई होगी. इकबाल मिर्ची मामले में प्रवर्तन निदेशालय के जरिए किए गए गिरफ्तार पहली महिला आरोपी रिंकू देशपांडेय‌ को दो दिनों तक पुलिस हिरासत में भेज दिया गया है.

ये भी देखें-: