महिला के सिर में लगी थी 3 गोलियां, फिर भी कार ड्राइव कर घायल मां को पहुंचाया अस्पताल

गोलियां लगने के बावजूद घायल सुमीत कौर ने अपनी मां सुखविंदर को उठाया और खुद कार ड्राइव कर 28 किलोमीटर दूर अस्पताल पहुंच गईं. 

महिला के सिर में लगी थी 3 गोलियां, फिर भी कार ड्राइव कर घायल मां को पहुंचाया अस्पताल
जानकारी के मुताबिक 42 वर्षीय सुमीत और 65 साल की सुखविंदर को लगी गोलियां निकाल दी गई हैं (प्रतीकात्मक फोटो)

मुक्तसर: जमीन-जायदाद का लालच इंसान को किस कदर इंसानियत से नीचे गिरा देता है इसकी मिसाल पंजाब के मुक्तसर जिले के गांव सम्मेवाली में देखने को मिली. जहां एक 19 साल के पोते ने जमीनी विवाद को लेकर अपनी दादी और बुआ को गोली मारी और उसके बाद वहां से फरार हो गया. सुमीत कौर (बुआ) ने बताया कि पुश्तैनी जायदाद को लेकर हमलावर से इनका विवाद है. कंवरप्रीत (भतीजा) अक्सर मिलने आता था.

मीडिया से बातचीत करते सुमित कौर ने बताया कि, वो अपनी मां सुखविंदर कोर के साथ में रहती है जिसका जमीन को लेकर अपने भाई हरिंदर सिंह से विवाद चल रहा था और कल हरिंदर सिंह के बेटे कंवरप्रीत ने बुआ और दादी को गोली मार दी. इस हमले में बुआ के सिर में 3 गोली और एक जबड़े में लगी है जबकि दादी को भी दो गोलियां लगी है.

यह भी देखें:-

वहीं इतनी गोलियां लगने के बावजूद घायल सुमीत कौर ने अपनी मां सुखविंदर को उठाया और खुद कार ड्राइव कर 28 किलोमीटर दूर अस्पताल पहुंच गईं. जानकारी के मुताबिक 42 वर्षीय सुमीत और 65 साल की सुखविंदर को लगी गोलियां निकाल दी गई हैं और दोनों की हालत अब खतरे से बाहर है.

इनपुट: JASWINDER BABBAR/ MUKTSAR