IIT छात्र ने रचा खुद की किडनैपिंग का जाल, वजह जानकर रह जाएंगे हैरान

दिल्ली के आईआईटी से पास इंजीनियर के इस तरह से किडनैप होने की खबर से पुलिस तुरंत हरकत में आई. पुलिस ने लड़के की मोबाइल सीडीआर को भी खंगाला जिससे उसकी लास्ट लोकेशन का पता चला.

IIT छात्र ने रचा खुद की किडनैपिंग का जाल, वजह जानकर रह जाएंगे हैरान
प्रतीकात्मक तस्वीर

नई दिल्ली: रोहिणी के रहने वाले एक छात्र के पिता के मोबाइल पर मैसेज आया, 'अपने बच्चे को जिंदा देखना है तो कल तक पांच लाख रुपए का इंतजाम करके रखना.' बेटा घर से बाहर था और अपने इंजीनियर बेटे के बारे में इस तरह के मैसेज को पढ़कर पिता के पैरों तले जमीन खिसक गई.

पिता ने फौरन बेटे के किडनैप की खबर फौरन पीसीआर को दी, पीसीआर के जरिये जैसे ही लोकल पुलिस को आईआईटी से पास आउट इंजीनियर लड़के के किडनैप होने की खबर जैसे ही पुलिस को मिली पुलिस फौरन हरकत में आ गई. पिता ने पुलिस को बताया कि उनका बेटा 6 बजे घर से निकला था जिसके बाद से ही वो वापस घर नहीं लौटा, 8 बजे से उसका मोबाइल फोन भी स्विच ऑफ आ रहा है.

दिल्ली के आईआईटी से पास इंजीनियर के इस तरह से किडनैप होने की खबर से पुलिस तुरंत हरकत में आई. आस पास के सीसीटीवी को खंगाला गया तो देखा कि इंजीनियर लड़का पैदल जाता हुआ दिखा. पुलिस ने लड़के की मोबाइल सीडीआर को भी खंगाला जिससे उसकी लास्ट लोकेशन का पता चला, पुलिस को लड़के की लास्ट लोकेशन सराय रोहिल्ला मिली. पुलिस की टीम फौरन सराय रोहिल्ला रेलवे स्टेशन पहुंच गई.

स्टेशन मास्टर से ट्रेनों के आने जाने की जानकारी ली, पुलिस को सीसीटीवी में लड़का रेलवे स्टेशन में जाता हुआ दिखा. पुलिस के जांच में पाया कि लड़के नाम रिजर्वेशन चार्ट में लिखा हुआ था. जिस संपर्क क्रांति राजधानी एक्सप्रेस में लड़के का रिजर्वेशन था वो राजस्थान के जोधपुर के लिए निकल चुकी थी. पुलिस ने जीआरपी से लड़के के बारे में पूछताछ की, और लड़के की फोटो अलवर जीआरपी को भेजी गई लेकिन वहां भी लड़के के बारे में कुछ पता नहीं चला, दिल्ली पुलिस ने लड़के की फोटो हर जगह भेज दी थी, पुलिस को खबर मिली कि लड़का उसी ट्रेन से जयपुर में उतर कर जा रहा था, जीआरपी की मदद से लड़के को रोका गया और इसी बीच दिल्ली पुलिस लड़के के घरवालों को लेकर जयपुर पहुंच गई और लड़के को वापस दिल्ली लेकर आ गई.

लड़के को वापस लेकर पुलिस ने जब पूछताछ की तो उसने पुलिस को बताया कि दिल्ली के आईआईटी से इंजीनियरिंग करने के बाद वो आईआईएम, अहमदाबाद से एमबीए करना चाहता था. दो बार कोशिश करने के बाद भी उसका एंट्रेंस पास नहीं कर पाया तो वो काफी मानसिक दबाव में आ गया था जिसके बाद उसने खुदकुशी की प्लानिंग की, सबसे पहले उसने अपने पिता को ही अपने किडनैप होने का मैसेज किया ताकि उसको खुदकुशी करने का पूरा वक्त मिल जाए लेकिन पुलिस की फुर्ती की वजह से वो अपने मंसूबों में कामयाब नहीं हो पाया. लड़के की काउंसलिंग करने के बाद परिवार के साथ घर भेज दिया गया. इस तरह दिल्ली पुलिस ने फुर्ती दिखाते हुए दिल्ली आईआईटी से पास एक होनहार इंजीनियर की जान बचा ली.

ये भी देखें-