Zee Rozgar Samachar

NCB ने बरामद की 233 किलो अफीम की खेप, 2 तस्कर अरेस्ट; यहां होनी थी सप्लाई

आरोपी की निशानदेही पर राजस्थान के ही भीलवाड़ा से दूसरे साथी धाकड़ को भी गिरफ्तार कर लिया गया, ये शख्स ड्रग्स तस्करों की मदद करता था.

NCB ने बरामद की 233 किलो अफीम की खेप, 2 तस्कर अरेस्ट; यहां होनी थी सप्लाई
बरामद हुई 233 किलो अफीम.

चित्तौड़गढ़: नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB) ने इस साल की सबसे बड़ी अफीम की खेप बरामद की है. जो राजस्थान के चित्तौड़गढ़ में छापेमारी के दौरान पकड़ी गई है. इस मामले मे 2 लोगों को गिरफ्तार किया गया है.

देश के कई राज्यों में सप्लाई होनी थी सप्लाई
एनसीबी के डायरेक्टर ऑपेरशन केपीएस मल्होत्रा ने बताया कि हमें जानकारी मिली थी कि राजस्थान के चित्तौड़गढ़ के गांव शादी में भारी मात्रा में अफीम है, जिसे देश के कई राज्यों में सप्लाई होना है. सूचना मिलने के बाद एक स्पेशल टीम बनाई गई जिसको मैं खुद लीड कर रहा था फिर उस गांव में टीम के साथ रेड की गई.

उन्होंने आगे कहा कि आरोपी आरलाल नाम के शख्स के ठिकानों से करीब 233 किलो से ज्यादा अफीम बरामद हुई. ये अफीम राजस्थान और मध्य प्रदेश के कई ड्रग तस्करों तक जानी थी, जिसके बाद इसको सप्लाई किया जाना था.

ये भी पढ़े- प्रधानमंत्री बेरोजगार भत्ता योजना की फेक वेबसाइट से ठगी, जानें क्या है पूरा मामला

आरोपी आरलाल से पूछताछ के बाद एनसीबी ने उसकी निशानदेही पर राजस्थान के ही भीलवाड़ा से दूसरे साथी धाकड़ को भी गिरफ्तार किया, ये शख्स ड्रग्स तस्करों की मदद करता था.

एनसीबी के मुताबिक राजस्थान, मध्य प्रदेश और उत्तर प्रदेश में अफीम की खेती होती है लेकिन खेती वो ही लोग कर कर सकते हैं जिनको सरकार ने लाइसेंस दिया हो. अफीम का इस्तेमाल दवा में किया जाता है लेकिन कुछ लोग नशे में इसका इस्तेमाल होने के लिए अवैध तरीके से बेच देते हैं. सरकार ये भी निर्धारित करती है कि एक हेक्टेयर में कितनी अफीम पैदा करनी है. सरकार के नियम अनुसार ही खेती की जाती है लेकिन कुछ किसान पैसों की चाहत में ड्रग्स तस्करों को अफीम सप्लाई कर देते हैं.

ये भी देखें-

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.