close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

समाज के ठेकेदारों ने पहले महिला को बताया डायन, उसके बाद हत्या का दिया आदेश, और फिर...

सामिया ने बताया की इससे पहले भी उसे डायन बताया गया था और उस वक़्त पुलिस ने मामले को संभाल लिया था.

समाज के ठेकेदारों ने पहले महिला को बताया डायन, उसके बाद हत्या का दिया आदेश, और फिर...

उत्तर दिनाजपुर: महल्लारसमाज ने एक महिला पर आरोप लगाया कि यह डायन है और इसको मार दिया जाए. इसके बाद महिला ने घबरा कर अपना घर छोड़ कर भाग गई. उत्तर दिनाजपुर के रायगंजके शीतग्रामपंचायत का आदिवासी परिवार है. फिलहाल यह आदिवासी दम्पति रायगंज थाने अपनी शिकायत दर्ज करवाने पहुंचे हैं. पुलिस के आश्वासन के बाद इस दंपति को थोड़ी हिम्मत मिली है.

घटना बुधवार रात की है जब रायगंज थाने के शीतग्राम ग्राम पंचायत के इकोर ग्राम के रहने वाले सामिया हासदा और मोंटू हेम्ब्रमरात में खाना खाकर सोने चले गए, मगर कुछ ही देर में कुछ लोगों के चलने की आवाज़ से उनकी नींद खुल गई. और जब उन लोगों की बात सुनी तो पता चला की यह आदिवासी लोग ही यहाँ डायन को मारने यानि सामिया को मारने के लिए इकठ्ठा हुए है.

उन लोगों को देख सामिया चुप चाप घर से निकल जाती है. बुधवार दिन में ही इलाके के कुछ लोगों ने सामिया को बताया था कि समाज के कुछ लोगों  ने सामिया के डायन घोषित कर दिया और इसलिए रात के अंधरे सामिया और मोंटूघर से भागकर एक सुरक्षित स्थान में चुपगए थे.

सूरज निकलते ही रायगंज थाने की पुलिस से गुहार लगाई सामिया ने. सामिया ने बताया की इससे पहले भी उसे डायन बताया गया था और उस वक़्त पुलिस ने मामले को संभाल लिया था. लेकिन आज दोबारा पुलिस से मदद मांगने के बाद सामिया और मोंटूने राहत की साँस ली लेकिन अभी तक दंपति अपने घर जाने का इंतज़ार कर रहे हैं.