इस कुख्यात सीरियल किलिंग मर्डर मिस्ट्री से पर्दा उठा! लेकिन, दोषी को नहीं होगी सजा

 स्थानीय पुलिस का कहना है कि इस व्यक्ति पर कोई चार्ज नहीं लगेगा और इस पर कोई कार्रवाई नहीं की जाएगी क्योंकि यह पहले ही जेल में सजा काट रहा है. 

इस कुख्यात सीरियल किलिंग मर्डर मिस्ट्री से पर्दा उठा! लेकिन, दोषी को नहीं होगी सजा
(प्रतीकात्मक तस्वीर)

सियोल: साउथ कोरिया (South Korea) के सबसे क्रूर सीरियल किलिंग (Serial Killing) के रहस्य की तहें खुलती नजर आ रही हैं. साउथ कोरिया में 1986 से लेकर 1991 के बीच ख्योंकी प्रांत के हसांग में 10 महिलाओं की रेप के बाद हत्या कर दी गई थी. अब इस मामले में एक कन्फेशन सामने आया है जिससे लगता है कि ये मामले सुलझ सकते हैं.

साउथ कोरिया के ही एक आदमी ने स्वीकारा है कि उसने न सिर्फ ये 10 मर्डर किए बल्कि कुछ और महिलाओं का खून किया. स्थानीय पुलिस का कहना है कि इस व्यक्ति पर कोई चार्ज नहीं लगेगा और इस पर कोई कार्रवाई नहीं की जाएगी क्योंकि यह पहले ही जेल में सजा काट रहा है. 50 साल का यह आदमी अपनी छोटी बहन के रेप और हत्या के आरोप में जेल में उम्रकैद की सजा काट रहा है.

ये भी पढ़ें- दूर से लगेगा उठ रहीं समुद्री तूफान की लहरें, लेकिन सच्चाई जानकार दंग रह जाएंगे आप

अप्रैल में पुलिस ने कहा था कि इन हत्याओं के पीछे जो शख्स है, उसका पता चल चुका है. अब पुलिस का कहना है कि इन 10 सीरियल किलिंग में से 9 की हत्या, के अलावा 5 और हत्याओं तथा करीब 30 और यौन उत्पीड़न के मामलों को लेकर इस शख्स ने स्वीकारोक्ति की है.

ये भी पढ़ें- भोपाल में इस शख्स ने किए 33 कत्ल, बोला- परिवार से दूर रहने के कष्ट से देता हूं मुक्ति

पुलिस उम्रकैद की सजा भुगत रहे इस कैदी से कुछ समय से पूछताछ कर रही थी. ख्योंकी की दक्षिण प्रांतीय पुलिस इजेंसी ने का कहना है कि कैदी के कन्फेशन के बावजूद इस पूरे मामले पर फिर से पड़ताल की जाएगी. पुलिस अधिकारी ने बताया, पीड़ित परिवार सच जानना चाहते हैं. चाहे इन मामलों को कितना भी वक्त क्यों न गुजर चुका हो, पुलिस का काम मामले की पड़ताल कर सच सामने लाना है.

साउथ कोरिया के कानून के मुताबिक, पीड़ित कबूल करने वाले के खिलाफ घटना के 10 साल के बाद कोई केस दायर नहीं कर सकते.

ये भी देखें-