ICSE, ISC Exam 2020: इस फॉर्मूले से 10वीं और 12वीं बोर्ड परीक्षाओं के लिए मिलेंगे मार्क्स

अब उम्मीदवारों का मूल्यांकन उन विषयों में प्राप्त अंकों में से तीन सर्वश्रेष्ठ प्रतिशत अंकों के आधार पर किया जाएगा जिनकी परीक्षाएं हो गई हैं.

ICSE, ISC Exam 2020: इस फॉर्मूले से 10वीं और 12वीं बोर्ड परीक्षाओं के लिए मिलेंगे मार्क्स
परीक्षाओं की मूल्यांकन योजना जारी.

नई दिल्ली: काउंसिल फॉर द इंडियन स्कूल सर्टिफिकेशन इक्जामिनेशन (CISC Exam 2020) ने शुक्रवार को कक्षा 10वीं और 12वीं की उन परीक्षाओं के लिए मूल्यांकन योजना का ऐलान किया है, जिन्हें कोविड-19 महामारी के चलते रद्द कर दिया गया है.

अब उम्मीदवारों का मूल्यांकन उन विषयों में प्राप्त अंकों में से तीन सर्वश्रेष्ठ प्रतिशत अंकों के आधार पर किया जाएगा जिनकी परीक्षाएं हो गई हैं. साथ ही इसके लिए मूल्यांकन में उनका आंतरिक मूल्यांकन और प्रोजेक्ट वर्क के अंकों को भी ध्यान में रखा जाएगा.

बोर्ड ने आधिकारिक बयान में कहा, 'पेपर्स में नंबर देने के लिए जिस फार्मूले का इस्तेमाल किया जाएगा. उसमें उन पेपर्स में तीन सर्वश्रेष्ठ प्रतिशत अंक शामिल होंगे. जिसकी अभ्यर्थी बोर्ड परीक्षा दे चुका है. साथ ही इसमें पेपर के आंतरिक मूल्यांकन में प्राप्त अंक प्रतिशत को भी शामिल किया जाएगा.'

ये भी पढ़ें: NEET, JEE Main 2020: स्थगित हुईं परीक्षाएं, HRD मंत्रालय ने नई तारीखों का किया ऐलान

 

आंतरिक मूल्यांकन फार्मूला कक्षा 12वीं के लिए लागू होगा जो कि इंडियन स्कूल सर्टिफिकेट (ISC Board Exam) परीक्षा है जबकि कक्षा 10वीं के मूल्यांकन के लिए प्रोजेक्ट वर्क को ध्यान में रखा जाएगा, जो कि इंडियन सर्टिफिकेट आफ सेकंडरी एजुकेशन (आईसीएसई) परीक्षा है.

आपको बता दें कि कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए लॉकडाउन लागू होने के चलते बची बोर्ड परीक्षाओं को टाल दिया गया था. ये परीक्षाएं एक जुलाई से 14 जुलाई तक होनी थीं.

बोर्ड ने बाद में ऐलान किया था कि कक्षा 10वीं और 12वीं के छात्र बची बोर्ड परीक्षाओं में नहीं बैठने का विकल्प चुन सकते हैं और प्री-बोर्ड परीक्षा या आंतरिक मूल्यांकन में उनके प्रदर्शन के अनुसार उन्हें अंक प्रदान किये जाएंगे. हालांकि, कोविड-19 के मामलों में बढ़ोतरी को देखते हुए पिछले सप्ताह परीक्षाएं रद्द कर दी गई थीं. (इनपुट: एजेंसी भाषा)