NEET 2020: COVID-19 के इन दिशा-निर्देशों के साथ कुछ ऐसा रहेगा परीक्षा का माहौल

राष्ट्रीय पात्रता एवं प्रवेश परीक्षा यानी कि नीट 2020 की परीक्षा का आयोजन 13 सितंबर 2020, रविवार को किया जाएगा. कोरोना वायरस (Coronavirus) के चलते साल 2020 में नीट परीक्षा (NEET Exam) के आयोजन में काफी तब्दीलियां की गई हैं.

NEET 2020: COVID-19 के इन दिशा-निर्देशों के साथ कुछ ऐसा रहेगा परीक्षा का माहौल
देश भर में कल नीट परीक्षा का आयोजन किया जाएगा

नई दिल्ली: राष्ट्रीय पात्रता एवं प्रवेश परीक्षा यानी कि नीट 2020 (NEET 2020) की परीक्षा का आयोजन 13 सितंबर 2020, रविवार को किया जाएगा. इसके लिए हर राज्य में विशेष तैयारियां की गई हैं. कोरोना वायरस (Coronavirus) के चलते साल 2020 में नीट परीक्षा (NEET Exam) के आयोजन में काफी तब्दीलियां की गई हैं.

सुरक्षा के कड़े इंतजाम
सुरक्षा मानकों को ध्यान में रखते हुए नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (National Testing Agency) यानी एनटीए (NTA) ने उम्मीदवारों के लिए ड्रेस कोड (Dress Code) और जरूरी सामान संबंधी कुछ विशेष नियम तय किए हैं. कोविड-19 (COVID-19) की वजह से इस साल परीक्षा केंद्र में एंट्री करने से पहले छात्रों की जांच संबंधी नियम में फेरबदल किया गया है. जांच करने वाले लोगों को एक लंबी छड़ी के साथ कुछ डिवाइस (Device) दिए जाएंगे, जिससे कि सोशल डिस्टेंसिंग (Social Distancing) के नियम का पालन किया जा सके. परीक्षा केंद्र में एंट्री (Entry) से लेकर परीक्षा देने तक छात्रों को एनटीए द्वारा जारी किए गए दिशा-निर्देशों का पालन करने की सलाह दी जाती है.

यह भी पढ़ें- जेईई मुख्य परीक्षा के परिणाम घोषित, 24 छात्रों को 100 परसेंटाइल

नीट 2020 ड्रेस कोड संबंधी नियम
नीट 2020 परीक्षा के लिए एनटीए द्वारा जारी किए गए ड्रेस कोड का पालन करना अनिवार्य होगा. जानिए, छात्रों को ड्रेस कोड संबंधी किन बातों का खासतौर पर ध्यान रखना होगा.

1. सभी छात्रों को अनिवार्य रूप से मास्क (Mask) पहनना होगा. यदि वे चाहें तो फेस शील्ड (Face Shield) और ग्लव्स (Gloves) भी पहन सकते हैं.
2. उम्मीदवार मौसम के अनुरूप हल्के रंग के ढीले कपड़े पहन सकते हैं. जीन्स, सलवार-सूट, लॉन्ग स्कर्ट, ट्राउजर, टी-शर्ट और शर्ट पहनने की भी अनुमति है.
3. पूरी आस्तीन की शर्ट, बड़े बटन वाली ड्रेस और तंग कपड़े पहनने की अनुमति हरगिज नहीं मिलेगी. परीक्षा में बैठने वाले उम्मीदवारों को जूते पहनने की अनुमति नहीं है. वे चप्पल या आगे से खुली वाली सैंडल (Sandal) पहन सकते हैं.
4. किसी भी उम्मीदवार को किसी भी तरह के जेवर पहनने की अनुमति नहीं है. हालांकि, अगर किसी धार्मिक वजह से किसी के लिए जेवर पहनना जरूरी है तो उसकी इजाजत मिल जाएगी.
5. हेड स्कार्फ (Head Scarf) और पगड़ी पहन सकते हैं लेकिन उनकी जांच की जाएगी.
6. परीक्षा केंद के अंदर घड़ी या किसी भी तरह का डिवाइस पहनने की अनुमति नहीं मिलेगी.

यह भी पढ़ें- UPPSC ने घोषित किए PCS Mains 2018 के परिणाम, टॉप 5 में रहा छात्राओं का जलवा

नीट 2020 डॉक्युमेंट्स (Documents) संबंधी नियम
नीट 2020 परीक्षा के लिए उम्मीदवारों को अपने साथ कुछ दस्तावेज भी लेकर जाने होंगे. जानिए उनके बारे में.

1. सभी उम्मीदवारों को अपने साथ नीट 2020 एडमिट कार्ड (Admit Card) लेकर जाना होगा. उसके साथ ही सरकारी फोटो आई डी कार्ड (Photo ID Card) और पीडब्ल्यूडी सर्टिफिकेट (PWD Certificate) (अगर उपयुक्त है) भी लेकर जाना होगा.
2. अगर उम्मीदवार परीक्षा लिखने के लिए किसी तरह की मदद चाहते हैं तो उन्हें उस व्यक्ति के दस्तावेज और मूल फोटो आई डी प्रूफ भी साथ लेकर जाने होंगे.
3. आंसर शीट भरने के लिए बॉल पॉइंट पेन (Ball Point Pen) का इस्तेमाल करना होगा.
4. परीक्षा केंद्र के अंदर फोन, ब्लूटूथ (Bluetooth) उपकरण या संचारण के अन्य उपकरण ले जाना मना है.
5. परीक्षार्थी पानी की पारदर्शी बोतल और सैनिटाइजर (Sanitizer) की छोटी शीशी परीक्षा केंद्र के अंदर ले जा सकते हैं. कोविड-19 के सुरक्षा मानकों को ध्यान में रखते हुए वहां पानी की बोतल या पानी की व्यवस्था नहीं करवाई जा सकेगी.
6. एडमिट कार्ड के अलावा कोई भी कागज, किताब, स्टेशनरी (Stationary) या बैग ले जाने की अनुमति नहीं है.
उम्मीदवारों को अटेंडेंस शीट (Attendance Sheet) पर लगाने के लिए एक रंगीन फोटो भी साथ लेकर जानी होगी. इसकी जानकारी एडमिट कार्ड पर दी हुई है. परीक्षा केंद्र पर अंगूठे का निशान नहीं लगाना होगा, लेकिन अपनी हैंडराइटिंग (Handwriting) का सैंपल देना होगा.

यह भी पढ़ें- कब होगी CBSE की कंपार्टमेंट परीक्षा, इस वजह से सुप्रीम कोर्ट में टली सुनवाई

नीट 2020 कोविड-19 दिशा-निर्देश
कोविड-19 को ध्यान में रखते हुए नीट 2020 परीक्षा के लिए कुछ खास दिशा-निर्देश जारी किए गए हैं. हर परीक्षार्थी को परीक्षा से पहले, परीक्षा के दौरान और परीक्षा के बाद उन बातों को ध्यान में रखना होगा.

1. कैंपस में एंट्री से पहले हर परीक्षार्थी की थर्मल स्क्रीनिंग (Thermal Screening) की जाएगी.
2. अगर तापमान 99.4 डिग्री से कम होगा तो छात्रों को आगे की जांच के लिए भेजा जाएगा और अगर तापमान इससे ज्यादा निकला तो उन्हें आइसोलेशन रूम (Isolation Room) में ले जाया जाएगा.
3. कोविड-19 के लिए बनाए गए स्थानीय हेल्पलाइन नंबर परीक्षा केंद्रों पर डिसप्ले किए जाएंगे.
4. अगर कोई भी परीक्षार्थी कोविड 19 पॉजिटिव (COVID 19 Positive) पाया गया तो उसे सभी परीक्षार्थियों से दूर एक अलग कमरे में परीक्षा देनी होगी. उस परीक्षार्थी को डॉक्टर के वहां आने तक मास्क पहनकर उसी कमरे में रहना होगा. अगर लक्षण बिगड़ते नजर आते हैं तो राज्य या जिला हेल्पलाइन नंबर पर सूचित करना होगा.
5. परीक्षा पूरी हो जाने के बाद परीक्षार्थियों को एक अदद तरीके से बाहर निकलना होगा- एक बार में एक ही परीक्षार्थी बाहर निकल सकेगा. परीक्षा केंद्र पर रखे गए कूड़ेदान में ग्लव्स और मास्क फेंकने होंगे.

राष्ट्रीय स्तर की इस परीक्षा में लगभग 15.67 लाख उम्मीदवार बैठेंगे. यह परीक्षा मेडिकल (Medical) और डेंटल (Dental) के स्नातक कोर्स (Undergraduate Course) में प्रवेश के लिए आयोजित करवाई जाती है.

शिक्षा संबंधी अन्य खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें